Monthly Archives: November, 2013

प्रेषक : कम्मो कितनी सुहावनी रात थी वो जिस दिन मैंने सुहागरात मनाई थी . पहले तो आया मेरे हाथ में मेरे शौहर का लौड़ा. मैंने खूब मजे से चुदवाया फिर अचानक मेरे हाथ में एक टन टनाता हुआ नया लण्ड आ गया . मैंने जब उसका चेहरा देखा तो वह मेरा नंदोई .था   .उसने खड़ा लण्ड चुपके से…

प्रेषक : रोहन हेल्लो दोस्तों में अपनी कहानी स्टार्ट करता हूँ… में पिछले साल मुबई से ट्रान्स्फर होकर न्यू दिल्ली गया था. कंपनी मे काम का लोड ज्यादा था तो काम मुझे 8 pm तक करना पड़ता था. मेरे फ्रेंड्स मुझे कहते थे की रोहन इतना काम मत किया कर. क्यो की में एक शरीफ आदमी था. तो लोग मुझे…

प्रेषक : प्रदीप समीर एक कॉलेज मे प्रोफेसर था उम्र 31साल स्मार्ट था. शादी को 2 साल हुए थे पर उसकी बीवी ज़्यादा खूबसूरत नही थी. इसलिय कॉलेज की कमसिन लड़कियो की जवानी लूटने की उसकी फॅंटेसी थी. कोमल फाइनल इयर मे पढ़ने वाली एक खूबसूरत लड़की थी. जो लास्ट 2 साल से कॉलेज का ब्यूटी कॉंपिटेशन जीतती आ रही…

प्रेषक : निशा निशा, मेघना और  नेहा तीनो एक ही कॉलेज में एक ही क्लास में पढ़ती है . तीनो आपस में गहरी दोस्त है . एक दूसरे के साथ हमेशा रहती है . तीनो कॉलेज में बड़ी मशहूर है पढने में भी और शैतानी करने में भी .तीनो अपनी खूबसूरती और बड़ी बड़ी चूंचियों वाली के नाम से भी…

प्रेषक : गुमनाम “चुदाई हो तो ऐसी 2” से आगे की कहानी . . . आखिर जब सुषमा ने उसे छोड़ा तो विनिता का चेहरा लाल हो गया थी. “क्या भाभी, तुम बड़ी हरामी हो, जान बूझ कर ऐसा करती हो.” सुषमा उसका मुंह चूमते हुए हंस कर बोली. “तो क्या हुआ रानी? तेरा मुखरस चूसने का यह सबसे आसान…

प्रेषक : गुमनाम “चुदाई हो तो ऐसी 1” से आगे की कहानी . . . . विनोद एक स्वर्गिक आनन्द में डूबा हुआ था क्योंकि उसकी छोटी बहन की सकरी कोमल मखमल जैसी मुलायम बुर ने उसके लंड को ऐसे जकड़ा हुआ था जैसे कि किसीने अपने हाथों में उसे भींच कर पकड़ा हो. विनिता के मुंह से अपना हाथ…

प्रेषक : गुमनाम विनोद बहुत दिनों से अपनी छोटी बहन विनिता को भोगने की ताक में था। विनोद एक जवान हट्टा कट्टा युवक था और अपनी पत्नी सुषमा और बहन विनिता के साथ रहता था। विनिता पढ़ाई के लिये शहर आई हुई थी और अपने भैया और भाभी के साथ ही रहती थी. वह एक कमसिन सुंदर किशोरी थी। जवानी…

प्रेषक : राज हेल्लो दोस्तो मेरा नाम राज हे ओर में आज आपको अपनी ओर अपनी भाभी की कहानी बताने जा रहा हूँ जिसमे मेने उन्हे नींद की गोली खिलाकर चोदा ओर ये मेरी पहली चुदाई का अनुभव था. मेरी भाभी का नाम पूनम था जो दिखने मे एकदम गोरा बदन था उनके फिगर के बारे मे तो में आपको…

प्रेषक : गबरू माँ बेटियों की एक साथ चुदाई 3 से आगे की कहानी  . . . रीना बोली-“हाँ माँ, पर अब ये मुझे छोड़े तब ना…इतना गन्दा हैं कि मेरा बदन चाट रहे हैं।” मैंने जोर से कहा, “बदन नहीं बिन्दा, आपकी बेटी की चूत चाट रहा हूँ….आप चाय बनवा कर यहीं दे दीजिए….तब तक मैं एक बार इसको…

प्रेषक : गबरू माँ बेटियों की एक साथ चुदाई 2 से आगे की कहानी  . . . अब तक मैंने कपड़े बदल लिए और बाहर निकल गया, कुछ समय बाद रागिनी अपने साथ रीना को ले कर बाहर आई। बिन्दा ने एक नजर रीना को देखा, और फ़िर झट से कहा, “जाओ, अब नहा-धो कर साफ़-सुथरी हो जाओ, मंदिर चलना…

1 2 3