भाभी की गांड मेरे लंड से चुद गयी

0
loading...

प्रेषक : राहुल …

हैल्लो दोस्तों, कैसे है आप सब? मेरा नाम राहुल है, मेरी उम्र 24 साल है, में दिल्ली का रहने वाला हूँ, मेरी हाईट 5 फुट 9 इंच है और में दिखने में स्मार्ट हूँ और मेरे लंड का साईज 9 इंच लंबा और 6 इंच मोटा है। तो दोस्तों आज में आपको जो स्टोरी सुनाने जा रहा हूँ, वो कुछ दिन पहले की है। मुझे सेक्स सेक्स में बहुत रूचि थी, मेरी ये कोशिश रहती थी कि कोई ऐसा मिले जिसके साथ में सेक्स कर सकूँ, लेकिन में कुछ नहीं कर पाया था। मेरी यह कहानी थोड़ी लंबी है, लेकिन ध्यान से पढ़ना। उन दिनों में मेरा फ्रेंड्स जो मेरे पड़ोस में रहता था, उसकी शादी पक्की हो गयी और 15 दिन में उसकी शादी हो गयी थी। अब में उसकी शादी में नहीं जा पाया था क्योंकि में मुंबई में मेरे अंकल के यहाँ था। फिर जब में वापस आया, तो वो शाम को मिला, तो मैंने कहा कि कैसी रही शादी और पहली रात अपनी पत्नी के साथ? तो वो कुछ बोला ही नहीं। फिर तभी वो बोला कि चल तुझे मेरी वाईफ से मिलाता हूँ। फिर में और मेरा दोस्त उसके घर पर गये, वहाँ उसकी वाईफ अकेली थी।

फिर जब में अंदर गया तो मैंने देखा कि उसकी बीबी बहुत सुंदर और सेक्सी लग रही थी और साड़ी में तो बहुत अच्छी लग रही थी और उसका फिगर तो ऐसा था कि पूछो मत, वो मेरी ही उम्र की थी, उसका नाम दिव्या था। मुझे तो वो औरत नहीं लड़की ही लग रही थी। फिर मैंने मेरे दोस्त से कहा कि यार तेरी बीवी तो बहुत मस्त लग रही है। फिर तभी मैंने भगवान से दुआ मांगी कि मुझे बीवी दो तो ऐसी देना। फिर मैंने उससे बात की, तो उसकी आवाज भी सेक्सी थी। अब वो भी मुझको बार-बार देख रही थी।

फिर एक दिन जब में अपनी बाइक को वॉश कर रहा था, तो तभी वो अपने घर से कुछ कपड़े और बर्तन लेकर मेरे यहाँ घोने आ गयी। अब जब वो नीचे की तरफ झुकती थी, तो तभी मैंने उसके प्यारे से बूब्स  को देख लिया, तो में उसे कुछ कह नहीं पाया। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। फिर में अपनी बाइक को वॉश करता गया और वो मुझे देखती गयी, लेकिन उसने ऐसा किया की उसके बूब्स मुझको साफ-साफ़ नजर आने लगे थे। अब में उसके बूब्स को जब भी देखता था तो मेरे अंदर 440 वाल्ट का करंट एक साथ दौड़ता था। अब इस तरह से में कई बार उसके बूब्स को देख चुका था, लेकिन वो कुछ नहीं कहती थी। फिर एक दिन आया जब मेरी किस्मत खुल गयी। फिर वो मेरे घर पर आई और मुझसे बोली कि घर पर टी.वी में कुछ दिखता नहीं है, तो ठीक कीजिए ना। फिर में जैसे ही उसके घर में टी.वी वाले रूम में गया, तो उसने दरवाजा बंद कर दिया, लेकिन मुझे मालूम नहीं था कि उसने दरवाजा बंद किया है, तब उसके घर पर कोई नहीं था।

अब में टी.वी को देख रहा था, तो तभी उसने मुझे पीछे से आकर उसकी बाहों में पकड़ लिया। अब में  मन ही मन में बहुत खुश हो रहा था। फिर मैंने जानबूझकर पूछा कि ये क्या कर रही हो? तो वो बोली कि जो तुम्हें दिख रहा है और फिर उसने मुझे किस करना शुरू कर दिया। अब वो मेरे लिप्स को बुरी तरह से क़िस करने लगी थी। अब में भी जोश में आ गया था और उसको किस करने लगा था और उसको अपनी बाहों में दबाने लगा था। फिर मैंने उसको खींचकर सोफे पर लेटा दिया और में उसके ऊपर आ गया और उसको चूमना शुरू कर दिया और फिर में 10 मिनट तक उसको चूमता रहा। फिर मैंने उसका ब्लाउज खोल दिया और फिर उसके बाद मैंने उसकी ब्रा भी खोल दी। फिर जैसे ही मैंने उसकी ब्रा खोली तो उसके बूब्स उछलकर बाहर आ गये। फिर में उसके बूब्स देखकर उनको दबाने लगा, वाहह क्या बड़े-बड़े बूब्स थे? 38 साईज के। अब मुझे बहुत दिनों के बाद उसके पूरे के पूरे बूब्स देखने को और दबाने को मिले थे।

फिर मैंने उसकी निप्पल को अपने मुँह में रख दिया और चूसने लगा। अब वो आहह, आहह, ऊहह कर रही थी और में उसे चूसता ही रहा। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने उसकी साड़ी हटाकर उसको पेंटी में ला दिया। अब उसकी चूत बहुत गर्म हो गयी थी, अब उसकी पेंटी गीली हो चुकी थी। फिर में उसकी पेंटी को निकालकर उसकी चूत को फैलाकर चाटने लगा। अब वो सिसकारी मार रही थी आह, आआ, सस्स्स्शहस आअहह, आहह और उसने कहा कि ऐसा तो तुम्हारा दोस्त भी नहीं करता है। अब उसे और मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, क्योंकि मैंने चूत पहली बार देखी थी। अब वो पूरी नंगी थी, अब पहली बार ऐसी नंगी लड़की को देखकर मेरा लंड जो सो रहा था, वो अब टाईट हो चुका था। फिर उसने मुझे बैठाकर मुझको पूरा नंगा कर दिया, तो वो मेरा लंड देखते ही बोली कि इतना लंबा तो मेरे पति का भी नहीं है, मुझे तुम्हारे लंड से चुदवाने में बहुत मज़ा आएगा।

अब मेरा लंड उसके हाथों में आते ही झटके खाने लगा था। अब वो बहुत टाईट हो चुका था, तो उसने कहा कि तुम्हारा लंड तो बहुत मोटा और लंबा है। तो मैंने कहा कि 9 इंच लंबा और 4 इंच मोटा है और फिर वो मेरे लंड को अपने मुँह में लेकर चूसने लगी और जहाँ तक हो सकता था, वो मेरा लंड अपने मुँह में ले रही थी। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था। फिर थोड़ी देर तक वो मेरा लंड चूसती रही और फिर उसके बाद मैंने उसे सोफे पर लेटा दिया और फिर से उसकी चूत को चाटने लगा। अब वो सिसकारियाँ मार रही थी। फिर में उठा उसके दोनों पैरो को फैला दिया, तो उसने अपने हाथों से उसकी चूत को फैला दिया। फिर तभी मैंने अपना लंड उसकी चूत पर रख दिया और उसकी चूत पर रगड़ने लगा, तो वो बोली कि अब डाल भी दो, कितना तड़पाओगे? तो मैंने कहा कि तड़पने में ही मज़ा है मेरी जान और फिर मैंने धक्का लगाकर उसकी फैली हुई चूत में अपने लंड को 4 इंच तक घुसा दिया और फिर 3-4 धक्के और लगाए। तो वो चिल्लाई उूउउ, उउईई माँ, आअ, घह, आह, स्स्स्स, सस्सस्स गया।

loading...

फिर मैंने धक्के मारना बंद किया, तो वो शांत हो गयी और फिर मैंने उसको किस करना शुरू कर दिया और उसे किस करने के बाद उसकी बड़ी-बड़ी चूचीयाँ चूसने और दबाने लगा। फिर थोड़ी देर के बाद वो खुद अपने आप ही अपने कूल्हों को ऊपर की तरफ धकेलने लगी थी। अब में समझ गया था कि अब वो मेरा पूरा लंड लेने को तैयार है, तो तभी मैंने फिर से धीरे-धीरे धक्के लगाने शुरू कर दिए। फिर वो आहह, आहहह, एयए, आहहह, उहह, उफ़फ्फ कर रही थी। फिर तभी मैंने एक ज़ोर से धक्का लगाकर मेरे लंड को 7 इंच तक उसकी चूत में घुसा दिया। फिर वो चिल्ला नहीं सकी, क्योंकि उसका मुँह मेरे मुँह में था और में उसको ज़ोर-ज़ोर से किस करता गया और धक्के लगाता गया। फिर तभी वो बोली कि फाड़ डाल मेरी चूत को, वो तुम्हारे लंड जैसा ही मांगती है। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

अब उसके यह कहने से मेरे अंदर जोश आ गया था तो मैंने फिर से धक्का लगाकर मेरा पूरा 9 इंच का लंड उसकी चूत में घुसा दिया। फिर वो इस बार ज़ोर से चिल्ला उठी आआ। अब में समझ गया था कि मेरा पूरा लंड उसकी चूत में घुस चुका है। फिर तभी वो बोली कि अब में और सह नहीं पा रही हूँ, तुम्हारा लंड बाहर निकाल दो। फिर मैंने कहा कि तुमने खुद मेरे लंड को न्योता दिया है तो उसकी भूख मिटाने के बाद ही में इसे बाहर निकालूँगा। फिर वो बाद में कुछ नहीं बोली, अब में उसे लगातार धक्के लगा रहा था। फिर में ऐसे ही 15-20 मिनट तक उसको उसी पोज़िशन में चोदता गया। अब उसे भी मज़ा आ रहा था, अब वो अपने कूल्हें उछाल-उछालकर मुझसे चुदवा रही थी। तो फिर मैंने भी उसे और ज़ोर-जोर से चोदना शुरू कर दिया। फिर थोड़ी देर के बाद वो बोली कि राहुल में झड़ने वाली हूँ प्लीज और तेज धक्के मारो ना। फिर में और तेज धक्के मारने लगा और वो आहह, ऊहह, ऊईई करती हुई झड़ गयी और शांत पड़ गयी।

loading...

फिर मैंने उसको घोड़ी बनने हो कहा तो वो हँसते हुए मुझे किस करने लगी और फिर वो घोड़ी बन गयी और सोफे के सहारे अपने हाथ आगे की तरफ किए और अपने सेक्सी कूल्हों को पीछे की तरफ कर दिया और अपनी कमर थोड़ी नीचे कर ली, जिससे उसकी चूत उभरकर बाहर की तरफ आ गयी। फिर मैंने  उसके पीछे जाकर उसकी चूत में मेरा लंड एक ही धक्के में पूरा का पूरा 9 इंच लंड उतार दिया, तो इस बार मेरा लंड एक ही धक्के में पूरा का पूरा उसकी चूत में चला गया। फिर में उसे जोर-जोर से धक्के मारने लगा। अब में तो पसीना-पसीना हो गया था, अब में उसके बूब्स को दबाए जा रहा था। फिर मैंने करीब 25 मिनट तक ऐसे ही उसको चोदा। अब तक वो 2 बार और झड़ चुकी थी, लेकिन मेरा पानी तो अभी भी नहीं निकला था तो मैंने अपनी स्पीड बढ़ा दी और उसे फुल स्पीड से चोदना शुरू कर दिया।  अब वो आआहह, आह, एसस्स, गुड राहुल, इसी तरह से फुक्ककक करो बोले जा रही थी। फिर मैंने उससे कहा कि मेरा पानी निकलने वाला है, कहाँ निकालूँ? तो वो बोली कि मेरी चूत में ही अपना पानी निकाल दो। फिर मैंने ओके आआअहह, ऊहह, लो और फिर मैंने उसकी चूत में ही अपना पानी छोड़ दिया।

loading...

फिर मैंने उसको अपने ऊपर घुमाकर लेटा लिया और अपनी बाहों में लेकर सोफे पर लेट गया। फिर थोड़ी देर बाद वो उठी और उसकी चूत से मेरा लंड निकालकर उसको चूसने लगी और फिर उसके बाद में वो मुझे बाथरूम में ले गयी और मेरे लंड को साबुन से साफ किया। फिर उसने मुझसे पूछा कि मज़ा आया क्या? तो मैंने कहा कि बहुत मज़ा आया, तो तभी वो बोली कि तुम्हारा लंड तो अभी भी टाईट है, क्यों? तो मैंने कहा कि ये अभी भी भूखा लगता है। फिर उसने कहा कि तो फिर चलो शुरू हो जाओ। तो में ये सुनकर तो ख़ुशी के मारे उछल पड़ा। फिर में उससे बोला कि अगर तुम बुरा ना मानो तो क्या में तुम्हारी यह सेक्सी गांड मार सकता हूँ? तो वो कुछ नहीं बोली और बाथरूम में रखे तेल को लेकर मेरे लंड पर लगाया और मुझसे कहने लगी कि में कब से यह करना चाहती थी? लेकिन उन्होंने मेरी गांड कभी भी नहीं मारी, आज तुमने यह बोलकर मुझे खुश कर दिया है, मुझे पता है कि तुम्हारा लंड मेरी गांड फाड़ देगा, लेकिन मुझे कोई परवा नहीं, मेरी गांड को इतना लंबा और मोटा लंड भी तो मिलेगा, लो अपनी और मेरी इस इच्छा को जल्दी पूरा करो। फिर मैंने भी बिना मौका गवाए अपने लंड को उसकी गांड के छेद पर रखकर एक जोरदार धक्का मारा तो मेरा 5 इंच तक लंड उसकी गांड में समा गया। फिर वो दर्द से छटपटाने लगी, तो में अपने हाथ आगे करके उसकी चूचीयाँ दबाने लगा। फिर कुछ देर में वो बोली कि अब मेरी परवा मत करो, दिखाओं तुम्हारे अंदर कितना जोश है? फिर क्या था? में उसकी गांड में अपना लंड डालता गया और वो आअहह, ऊईईई, उूउउम करती हुई अपनी गांड मरवाती रही।

फिर 30 मिनट की चुदाई के बाद में बोला कि क्या में अपना पानी तुम्हारी गांड में ही निकाल दूँ? तो वो बोली कि नहीं-नहीं अपने इस कीमती पानी को बेकार मत करो। फिर जल्दी से उसने मेरा लंड अपनी गांड से बाहर निकाला और पानी से धोया और अपने मुँह में लेकर चूसने लगी। फिर तभी में बोला कि अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा है, दिव्या आहह लो में आया और फिर में उसके मुँह में ही झड़ गया और वो मेरा सारा का सारा पानी पी गयी। अब उस वक़्त मुझे सच में ऐसा लगा था कि जैसे में क़िसी जन्नत में हूँ। फिर हम दोनों साथ में नहाए और अपने-अपने कपड़े पहने और मुझे जाने को कहा। फिर वो बोली कि अब मेरा टी.वी कब ठीक करोगे? तो में बोला कि जब भी खराब हो जाएगा तो तभी ठीक कर दिया करूँगा और फिर हम दोनों एक साथ हंस पड़े और एक दूसरे को किस किया और फिर में अपने घर आ गया। फिर उसके बाद उसको जब भी कोई मौका मिला, तो वो मुझे बुला लेती थी और हम दोनों खूब चुदाई करते थे ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!