चुदवाकर रिश्ता ख़त्म कर दिया

0
loading...

प्रेषक : राहुल …

हैल्लो दोस्तों, में कामुकता डॉट कॉम का नियमित पाठक हूँ। मेरा नाम राहुल है और में जॉब करता हूँ, जब में कॉलेज में था तो मेरी काफ़ी गर्लफ्रेंड थी। जब में IInd ईयर में था तो मेरी फ्रेंडशिप सिमरन नाम की एक लड़की से हुई। वो इतनी सेक्सी नहीं थी, लेकिन वो अपने आपको अच्छा रखती थी। वो जब मुझे दिखाने के लिए तैयार होती थी तो सेक्स बॉम्ब लगती थी। जब में उसको पहली बार डेट पर लेकर गया, तो हमने सिंपल बातें की मगर उसके बूब्स देखकर मुझे कुछ हो रहा था, सच में उसके बूब्स तो ऐसे लग रहे थे जैसे कोई आम लगे हो और मेरा मन कर रहा था कि में उसके बूब्स को वही रेस्टोरेंट पर खाना शुरू कर दूँ मगर रेस्टोरेंट में बैठे होने की वजह से में उसको कुछ भी नहीं कर सका।

फिर टाईम के साथ-साथ हम मिलते रहते थे और धीरे-धीरे पास आने लगे थे। हम पहले तो सिर्फ़ एक दूसरे के लिप्स पर किस करते रहे। फिर एक दिन हम दोनों मूवी देखने गये तो मूवी में भीड़ ना होने के कारण और अँधेरा भी था, तो मैंने उसका हाथ अपने हाथ में लिया और फिर उसके लिप्स पर किस किया, तो उसने भी बड़े प्यार से मेरा साथ दिया और किस करते वक़्त मुँह के अंदर से एक दूसरे की जीभ को जीभ के साथ टच और चूसने लगे। फिर थोड़ी देर बाद मैंने अपना एक हाथ उसके कंधो पर खा और आहिस्ता-आहिस्ता उसके बूब्स पर ले आया। फिर उसने पहले तो थोड़ा सा अजीब महसूस किया। फिर जब में उसके बूब्स को दबाने लगा, तो उसे मज़ा आने लगा।

फिर मैंने अपना एक हाथ उसकी कमीज के अंदर डाला और उसकी ब्रा के ऊपर से उसके बूब्स को दबाने लगा, तो उसको भी मज़ा आने लगा और वो भी मेरा साथ देने लगी। फिर उसने मुझे अपनी तरफ खींचा और मुझे हग किया और मुझे किस करने लगी। तो मैंने भी उसे और ज़ोर से हग किया, तो उसके बूब्स मेरी छाती को छू रहे थे। फिर मैंने उसकी कमीज के अंदर अपना एक हाथ फिर से डालकर उसकी ब्रा के हुक खोल दिए। तो उसने कहा कि प्लीज ऐसा मत करो। तो मैंने कहा कि क्यों? तो वो कहने लगी कि मुझे शर्म आ रही है। तो मैंने कहा कि इसमें शर्म वाली क्या बात है? फिर मैंने उसकी पीठ पर अपना एक हाथ रब करना शुरू किया, तो उसको मज़ा आने लगा। फिर में धीरे-धीरे अपना एक हाथ उसके बूब्स पर ले आया, तो उसका और मज़ा आने लगा तो उसने अपने हाथों से मुझे अपनी तरफ खींच लिया और मेरे साथ लिपट गयी और मुझसे कहने लगी कि पी जाओ आज मेरा सारा दूध और खा जा इसको। फिर मैंने उसकी कमीज ऊपर की और उसके बूब्स को चूसने लगा और वो अपने दोनों हाथों को मेरे बालों में फैरने लगी और मेरे सिर को ज़ोर-जोर से अपने बूब्स की तरफ दबा दिया।

अब उसको कुछ-कुछ होने लगा था और वो मदहोश होने लगी थी। फिर वो मुझसे कहने लगी कि राहुल में तुम्हारे बिना नहीं रह सकती हूँ, वो फिल्म में कभी भी नहीं भूल सकती हूँ, में जब भी उस फिल्म को टी.वी में देखती हूँ तो मुझे वो सीन याद आ जाता है। फिर हमारी लाईफ इसी तरह से सामान्य चलती रही और हमारी फोन पर बातें होती रहती थी और फोन सेक्स भी होता रहता था। फोन पर सेक्स करने का मज़ा ही अलग था। अब एक दूसरे के साथ फोन सेक्स कर रहे थे। फिर एक दिन हम बैठे बातें कर रहे थे, तो वो मुझसे कहने लगी कि राहुल मुझे तुमसे एक बात करनी है। फिर मैंने कहा कि कहो क्या बात है? तो उसने मुझसे ऐसी बात कही कि वो बात सुनकर मेरी तो जैसे लॉटरी लग गयी। फिर उसने कहा कि में तुम्हारे साथ सभी हद पार करना चाहती हूँ। फिर यह सुनकर में बहुत खुश हो गया और उससे कहा कि जब भी तुम चाहो।

फिर कुछ दिन के बाद एक दिन उसने मुझे फोन किया और बोली कि राहुल मेरी फ्रेंड के घर में आज कोई नहीं है, चलो चलते है और वहाँ जाकर कुछ टाईम पास करेंगे। फिर में बहुत खुश हो गया और सोचा कि चलो आज मौका अच्छा है मगर फिर जब में घर से जाने लगा तो इतनी देर मुझे कोई काम आ गया और मेरा सारा प्लान खराब हो गया। फिर मैंने उसको फोन किया और उसको अपनी प्रोब्लम बताई तो पहले तो वो नाराज हो गयी। फिर उसने मेरी प्रोब्लम समझी और समझी गयी। फिर उसी रात मैंने उसको फोन किया, तो जो हम दिन में नहीं कर सके थे, वो फिर हमने फोन पर किया, मेरा मतलब फोन सेक्स, फोन पर किस ली और फिर उसके साथ सेक्स की बातें की। फिर जब वो गर्म हो गयी, तो वो मुझसे कहने लगी कि राहुल बस करो, अब मुझसे कंट्रोल नहीं हो रहा है, प्लीज बस करो। फिर मैंने उससे कहा कि अब क्या हुआ? अभी तो शुरू हुआ है।

फिर धीरे-धीरे मैंने उसको अपने एक-एक करके कपड़े खोलने को कहा। तो वो कहने लगी कि मुझे शर्म आ रही है। तो मैंने कहा कि अगर तुम्हें फोन पर शर्म आ रही है, तो तुम सच में क्या करोगी? फिर मैंने बड़े प्यार से उससे कहा कि पहले अपनी कमीज खोलो और फिर उसकी ब्रा खुलवा दी और फिर उसके बाद उससे कहा कि अपने बूब्स पर अपने हाथ फैरे तो उसने वैसा ही किया। फिर मैंने उससे उसकी सलवार खुलवा दी और उसके बाद उसकी पेंटी भी खुलवा दी। फिर जब वो पूरी नंगी हो गयी तो फिर क्या था? अब में भी जोश में आ गया था। फिर मैंने आहिस्ता-आहिस्ता उसको एहसास कराया कि जैसे में उसके पास हूँ। फिर वो कहने लगी कि प्लीज राहुल तुम अभी के अभी मेरे पास आ जाओ, प्लीज अब मुझे मत तड़पाओ, अब में और बर्दाश्त नहीं कर सकती हूँ। फिर मैंने उससे कहा कि ऐसा समझ लो में तुम्हारे पास ही हूँ। फिर मैंने उससे कहा कि अपनी उंगलियों को मेरा लंड समझ ले और जोर-जोर से आहें भरकर अंदर कर जैसे फुक करते है। अब इधर में भी जोश में आ गया था और अपने लंड को पकड़कर मुठ मारनी शुरू कर दी थी। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

loading...

अब में जैसे-जैसे जोश में आ रहा था, तो उसको भी जोश आ रहा था। अब में उससे कह रहा था कि सिमरन और तेज और तेज, अब मुझे मज़ा नहीं आ रहा। फिर वो और जोश में आ जाती और अब उसके मुँह से आवाजे निकल रही थी आआअहह, उूउऊहह, बसस्सस्स और नहीं, इतनी ज़ोर से मत करो राहुल, में मर जाऊँगी। अब उसकी आवाज़ में वो दर्द मुझे और मज़ा दे रही थी। फिर कुछ देर के बाद वो कहने लगी कि मेरा पानी निकल गया और इधर में भी डिसचार्ज हो गया था। फिर हमारी लाईफ ऐसे ही चलती रही कभी-कभी फोन पर, नहीं तो कभी-कभी मूवी में। फिर एक दिन हमें मौका मिल ही गया और मेरे घरवाले एक दिन के लिए बाहर गये थे और मेरा बड़ा भाई शॉप पर था। अब मैंने उस दिन अपनी जॉब से छुट्टी ले ली थी। अब मेरे घर पर कोई नहीं था तो इसलिए फिर मैंने उसको फोन किया कि सिमरन घर पर आ जाओ, मेरे घर पर कोई नहीं है और मुझे आकर खाना बनाकर खिला दो। फिर वो मुझसे कहने लगी कि सिर्फ़ खाना ही बनाकर खिलाना है और तो कुछ नहीं। फिर मैंने कहा कि हाँ और कुछ नहीं।

फिर वो 1 घंटे के बाद मेरे घर पर आ गयी, वो क्या लग रही थी? उसने ब्लेक कलर का सूट पहना था। अब मुझे तो ऐसा लग रहा था कि आज वो पूरी तरह से तैयार होकर आई है। फिर पहले तो हमने बातें की और फिर उसने मुझे चाय बनाकर पिलाई, फिर क्या था? में उसके पास आया और उसको हग कर लिया और उसको दीवानों की तरह किस करने लगा और उसको अपनी गोद में उठाकर अपने रूम में लाया और उसे बेड पर लेटा दिया। फिर आहिस्ता-आहिस्ता हम एक दूसरे के कपड़े उतारने लगे और पहले तो सिर्फ़ किस करने लगे। फिर मैंने उसके बूब्स को सक किया, तो उसके मुँह से सिसकियाँ निकलने लगी और वो कहने लगी कि राहुल आई लव यू, प्लीज ऐसा मत करो, आआअहह, उउऊहह, राहुल खा जाओ इनको, यह कब से तुम्हारा इंतज़ार कर रहे थे? आज खाजा इनको, पी जाओं सारा दूध, उसके सॉफ्ट बूब्स इतने सॉफ्ट थे जैसे कॉटन हो।

अब हम दोनों लिप किस करने लगे थे और देखते ही देखते उसने अपनी जीभ मेरे मुँह में डाल दी थी। अब उसे बहुत मज़ा रहा था और उसके मुँह से आवाज़े निकल रही थी आआआआआआ, उऊहह, बस करो, में मर जाउंगी कह रही थी। फिर उसने बताया कि वो 4 बार झड़ चुकी है। फिर मैंने उसे अपनी जीन्स और पेंटी उतारने को कहा। फिर जब वो पूरी नंगी हो गयी, तो मैंने देखा कि उसकी चूत पर एक भी बाल नहीं है। फिर उसने कहा कि प्लीज ऐसे रोमांस करो जिसे वो कभी नहीं भूले। फिर मैंने उसे बेड पर सीधा लेटने को कहा और उसकी चूत पर किस किया, तो उसके मुँह से आआआहह हट जाओ, प्लीज कुछ हो रहा है, मेरा निकल गया है। फिर मैंने कहा कि रूको तो सही अभी और मज़ा आएगा और वो तड़पती रही। फिर थोड़ी देर के बाद मैंने महसूस किया कि उसकी पकड़ मेरी बाहों में मज़बूत हो गयी है और जब तक में समझता वो झड़ गयी थी और में साईड पर हट गया। मैंने पहली बार किसी लड़की को झड़ते हुए देखा था, उसकी पिचकारी 1-2 मीटर तक दूर गयी थी।

फिर उसका हाथ मेरे लंड पर गया, जो रोड की तरह खड़ा था। फिर मैंने अपनी पेंट उतार दी, तो वो मेरा लंड देखकर डर गयी। फिर मैंने उसे समझाया कि पहले-पहले दर्द होगा और फिर बहुत मज़ा आएगा। फिर वो मान गयी और में उसके ऊपर आ गया और अपने लंड को उसकी चूत पर सेट किया और धक्का लगाना शुरू किया। फिर मैंने पहले एक धक्का मारा तो उसकी चूत गीली होने के कारण मेरा लंड 3 इंच झटके में अंदर चला गया, तो वो चीखने लगी, लेकिन रुक गयी क्योंकि वो नहीं चाहती थी कि हमारे पड़ोसी को पता लगे और मुझसे कहा कि आराम से करो, ओह, आहह, लग रहा है, हाईईईईई, उउउहह, आआअहह, चोद दो और जोर से, में तुम्हारी वाईफ हूँ और मारो, आआहह। फिर वो मेरे बालों को सहलाते हुए अपनी गर्दन को उठाते हुए फिर से बोली कि राहुल प्लीज सस्सईई, आआअहह, मारो जोर से और जोर से, आआहह, ऊओह, में रंडी हूँ इसलिए तो में तुमसे चुदवा रही हूँ, मारो ऐसे ही आहह।

loading...
loading...

फिर मैंने कहा कि ठीक है और फिर मैंने धीरे-धीरे अपना पूरा लंड उसकी चूत में उतार दिया और 5 मिनट रुककर धक्के मारने लगा। फिर थोड़ी देर में उसकी सील टूट गयी औट उसकी ब्लडिंग शुरू हो गयी, क्या टाईट चूत थी उसकी? अब शुरू-शुरू में तो मुझे भी बहुत दर्द हुआ था, लेकिन बाद में सब ठीक था। फिर मैंने इस तरह से उसे 20 मिनट तक चोदा और वो इस दौरान 3 बार झड़ चुकी थी, लेकिन पता नहीं मुझे क्या हुआ था? अब में झड़ने का नाम ही नहीं ले रहा था। फिर में उसे बाथरूम में लेकर गया और उसे डॉगी स्टाइल में चोदना शुरू किया। अब में बहुत स्पीड से उसे चोद रहा था और उसके निप्पल दबा कर रहा था और वो झड़ती रही और उसका वीर्य टप-टप करता हुआ गिरता रहा। फिर इस स्टाईल में मैंने उसे 35 मिनट तक चोदा होगा और अब में भी झड़ने वाला था तो मैंने उसे बताया।

फिर उसने कहा कि में भी झड़ने वाली हूँ और फिर 5 मिनट के बाद में झड़ गया और उसके बाद ही वो भी झड़ गयी। मेरे लंड से बहुत वीर्य निकला और अब में जोश में उसकी चूत के अंदर ही झड़ गया था और उसे भी पता नहीं चला था। फिर हम दोनों नहाए और उसने अपने घर पर कॉल करकर बताया कि वो 1 घंटे के बाद आएगी और फिर उससे पता नहीं क्या हो गया? तो उसने दुबारा से मेरी पेंट उतार दी और मेरा लंड चूसना शुरू कर दिया। तो में फिर से गर्म हो गया और फिर मैंने उसे करीब 1 घंटे तक और चोदा। फिर उस दिन वो मुझसे करीब 2 घंटे तक चुदी और 3 बार झड़ी। फिर उसके बाद फिर से मुझे दुबारा कभी कोई मौका नहीं मिला और कुछ गलतफेमियों की वजह से हम दोनों में दूरियाँ बन गयी। मैंने तो बहुत बार उसकी गलतफेमियों को दूर करने की कोशिश की, लेकिन वो नहीं चाहती थी और उसने मेरे साथ अपने सारे रिश्ते ख़त्म कर दिए ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!