डर्टी सेक्स जंगली बिल्ली के साथ

0
loading...

प्रेषक : विशाल …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम विशाल है, में जिस लड़की के बारे में बता रहा हूँ, वो एक नंबर की जंगली बिल्ली टाईप और नॅस्टी टाईप की है और मुझे जंगली बिल्लियाँ बहुत पसंद हैं और वियर्ड चीज़ीं भी, क्योंकि में खुद भी वियर्ड हूँ।

फेसबुक एक लड़की ने मुझसे संपर्क किया और उसने कहा कि वो सेक्स इन्जॉय करना चाहती है, तो उसने कहा कि वो 1 हफ्ते के लिए किसी प्रोग्राम को अटेंड करने दिल्ली रहने आई है, तो वो मुझसे मिलना चाहती है। लेकिन में ऐसे किसी लड़की के कहने पर कैसे जाऊं? भाई जमाना खराब है, पता लगा किसी ने फंसा दिया तो पहले मैंने लड़की से वीडियो चैट पर पता लगाया, तो उसके साथ में एक लड़की उसकी कज़िन और थी, तो मैंने उन दोनों के साथ वीडियो चैट की। लेकिन उन दोनों की एक ही शर्त थी कि वो लोग नॉर्मल सेक्स नहीं करेंगी, वो डर्टी वियर्ड टाईप सेक्स करेंगी।

अब में भी थोड़ा एग्जाइटेड था, में पहली बार 2 लड़कियों के एक साथ सेक्स करने वाला था। तो फिर उन्होंने मुझे अपने घर बुलाया, तो मैंने घर जाने से पहले उनको कॉल किया। तो उन्होंने कहा कि हम तैयार है, तुम आ जाओ। फिर मैंने जाकर घर की बेल बजाई, तो अब मेरे सामने दो लड़कियाँ थी, वो दोनों 22-23 साल की होगी, स्लिम सी, उनमें से एक का नाम पिंकी था और एक नाम मीना था और में कमीना था। उनके ब्रेस्ट ज़्यादा बड़े तो नहीं थे, उनका कलर फेयर, हाईट लगभग 5 फुट 5 इंच, फिगर साईज़ 32-28-34 था, उन दोनों की गांड मस्त थी। पिंकी ने एक शॉर्ट टॉप, स्लीवलेस और स्कर्ट पहनी हुई थी और मीना ने ब्लाउज और पेटिकोट, मेकअप में काजल लगाया हुआ था, पिंकी के लिप्स नॉर्मल थे, लेकिन मीना के ब्राइट रेड थे। फिर उन्होंने मुझे अंदर बुलाया और फिर उन दोनों ने मेरे हाथ पकड़कर बेड पर बैठाया और कहा कि तैयार हो ना। तो मैंने कहा कि आई एम ऑल्वेज़ रेडी लेकिन घर पर कोई और तो नहीं है ना, तो उन्होंने कहा कि नहीं।

फिर मीना मेरे लिए पानी लेकर आई, लेकिन उसने मुझे पानी अलग तरीके से पिलाया। उसने खुद पहले पानी अपने मुँह में भरा और मेरे होंठों से होंठ मिलाकर मेरे मुँह में पानी ट्रान्सफर किया। मैंने पहली बार ऐसे पानी पीया था, अब उसकी लिपस्टिक मेरे होंठों पर लग गई थी। फिर वो दोनों हँसने लगी, फिर उन दोनों ने मेरे कपड़े उतारने शुरू किए। फिर उन्होंने मुझसे कहा कि पहले तुम्हारा टेस्ट होगा कि तुम डर्टी सेक्स कर पाओगे या नहीं। फिर मैंने देखा तो पिंकी को पीरियड्स टाईम चल रहा था और उसने कोई कपड़ा भी नहीं लगाया हुआ था, उसकी पेंटी खून में भीगी हुई थी। अब मैंने पीरियड्स में पहले भी सेक्स किया हुआ है तो मुझे कोई प्रोब्लम नहीं थी। लेकिन मैंने उसको बोला कि पीरियड्स में बिना कंडोम नो सेक्स। फिर उसने मुझे पूरा नंगा किया और मेरे ऊपर चढ़ गई और अपनी पीरियड के खून में भीगी हुई पेंटी को मेरे लंड पर रगड़ने लगी। अब मेरा लंड लाल हो गया और पूरा भीग गया था, फिर उसने बताया कि उसने एक बार एक लड़के के साथ ऐसा किया, तो वो डर के भाग गया था।

अब उसने अपनी पेंटी से पूरा खून मेरी बॉडी पर लगाना शुरू कर दिया। अब वो कभी अपनी पेंटी में उंगली डालकर मेरी बॉडी पर दिल बनाती, तो कभी कुछ और बनाती। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, अब वो मुझे ऐसे ही पेंटी के ऊपर से ही काफ़ी देर तक करती रही और आआहहह आआअहह की आवाज़ें निकालती रही। लेकिन ऐसा करते हुए वो झड़ गई और मुझे एकदम से गर्म-गर्म उसके झड़ने का एहसास हुआ। तभी पिंकी ने अपनी पेंटी फाड़कर उतार दी और मीना को इशारा किया, तो मीना ने मेरे लंड पर कंडोम चढ़ा दिया और पिंकी ने अपनी चूत के अंदर मेरा लंड डलवाना शुरू किया। ओह अब मुझे गर्म- गर्म चूत में क्या मज़ा आ रहा था? अब सारा खून कंडोम पर लग गया था। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, अब उसके मुँह से बस आअहह आअहह की आवाज़ें निकलने लगी थी।

फिर थोड़ी देर के बाद में भी झड़ गया, फिर थोड़ी देर के बाद उसने कहा कि वो मुझ पर पेशाब करना चाहती है, तो हम दोनों बाथरूम में गये। फिर पिंकी ने कहा कि में उसके माल से उसकी चूत में उंगली करूँ, उसकी चूत पीरियड के खून से भरी पड़ी थी। अब हम दोनों की बॉडी भी लाल-लाल हो चुकी थी, अब वो पोर्ट पर ना बैठकर मेरी गोद में बैठ गई। फिर मैंने उसकी चूत में उंगली डाली और उसकी चिपकी हुई चूत और गर्म-गर्म चूत में अपनी उंगली अंदर बाहर करने लगा। अब उसको पेशाब करने में और दिक्कत होने लगी थी, अब जब उसको ज़ोर से पेशाब आने लगी तो उसने मुझे ज़ोर से पकड़ लिया और एकदम से ढेर सारा झरने की तरह उसका सारा पेशाब निकल गया। फिर हम दोनों ने एक दूसरे को साफ किया और बाहर आ गये।

फिर मैंने मीना को पकड़ा और उसके पेटिकोट में हाथ डालकर उसकी पेंटी उतारी, उसकी पेंटी पारदर्शी वाली थी, क्या मस्त लाल कलर की पेंटी थी? उसकी पेंटी भी हल्की-हल्की भीगी हुई थी। फिर मीना बोली कि हम दोनों जंगली बिल्लियाँ है आज कहाँ बचकर जाओगे? तो मैंने कहा कि आ जाओ जंगली बिल्लियों, वो तो वैसे भी मुझे बहुत पसंद है। फिर उन दोनों ने मुझे लेटा दिया और मेरे लंड पर थूक- थूककर उसको गीला किया। फिर उन दोनों ने मेरे लंड पर अपने होंठ लगाए और अपने होंठों को ऊपर नीचे करने लगी, ओह क्या बताऊँ यार? में पहली बार दो होंठो को एक साथ मेरे लंड पर महसूस कर रहा था। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था, क्या बताऊँ? मुझे जन्नत का नज़ारा मिल रहा था, अब मुझे उन दोनों की साँसे गर्म-गर्म महसूस हो रही थी। फिर मीना ने मेरे लंड को चूसना शुरू किया, अब वो तो बिल्कुल वेक्कूम क्लीनर की तरह मेरा लंड चूस रही थी।

अब पिंकी मुझे स्मूच करने लगी, फिर उसने मेरे कान में कहा कि जब तुम्हारा पानी निकलने लगे तब बोलना मत बस मेरे निपल दबा देना। तो मैंने तभी उसका निपल ज़ोर से दबा दिया, तभी पिंकी उठी और उसने मीना का मुँह मेरे लंड पर दबा दिया और मीना एकदम से मेरा सारा पानी पी नहीं पाई और कुछ उसकी नाक पर, मुँह पर आ गया। तब पिंकी हँसने लगी और कहा कि मज़ा आया कुतिया, कैसा लगा? अब मीना का काजल भी पसीने की वजह से बह रहा था। फिर पिंकी ने मीना को उठाया और मीना ने पिंकी के बाल पकड़े और कहा कि कुट्टी कमिनी अब तू बच, अब वो दोनों जैसे सच्ची की जंगली बिल्लियों की तरह लड़ रही थी, लेकिन हँसते हुए। तभी पिंकी ने मीना को कस कर पकड़ा और उसके मुँह पर अपनी जीभ फैरने लगी, अब वो मेरा सारा स्पर्म उसके मुँह से चाटने लगी थी। लेकिन मीना इसी से शांत नहीं हुई, अब मीना ने बदला लेने की सोच लिया था। फिर मैंने उन दोनों को रोका और कहा कि तुम दोनों बहुत बदमाश हो, तुम दोनों को सज़ा मिलेगी।

loading...

तभी घर का फोन बजा तो पिंकी ने फोन उठाया, वो फोन पिंकी की माँ का था, अब वो घर आ रही थी। अब वहाँ तो मानो भगदड़ मच गई थी, चादर पर पीरियड वाला खून लगा हुआ था, सब गंदा था। फिर हमने सब साफ किया, अब पूरे मूड की तो माँ चुद गई थी। फिर उनकी मदद करवाने के बाद में फटाफट अपने कपड़े पहनकर बाहर निकला। फिर दो दिन के बाद मुझे उन लोगों का फोन आया, तो उन दोनों ने मुझे दुबारा बुलाया और फोन पर मीना ने कहा कि देखो ना ये कमिनी मुझे बहुत परेशान कर रही है इसको सज़ा दो। तब पिंकी ने फोन लिया और कहा कि ये कुतिया मुझे परेशान कर रही है इसको सज़ा दो। तो मैंने कहा कि तुम दोनों बहुत कमिनी कुत्ती हो तुम दोनों को ही सज़ा मिलेगी। फिर मैंने 2 केंडी वाली आइसक्रीम ली और में फटाफट उनके घर के लिए निकला। अब पिंकी और मीना दोनों शर्ट और स्कर्ट में मेरे सामने खड़ी थी।

loading...

फिर पिंकी ने मेरे कान में कहा कि आज पीरियड्स नहीं है, अब वो दोनों 2 चोटी बनाकर बिल्कुल स्कूल गर्ल की तरह खड़ी थी और पिंकी ने अपने मुँह में लॉलीपोप लिया हुआ था और मीना चॉकलेट खा रही थी। फिर उन दोनों ने मुझे अंदर बुलाया और कहने लगी कि सर देखो ना ये मुझे बहुत दुखी करती है। तो मैंने कहा कि आज तुम दोनों को सज़ा मिलेगी, फिर मैंने उन दोनों को कहा कि तुम एक दूसरे के कपड़े उतारो और मेरे भी कपड़े उतारो। तो पहले उन दोनों ने मेरे कपड़े उतारे और फिर एक दूसरे के कपड़े उतारे। फिर मैंने उन दोनों को टेबल पर लेटाया और 69 की पोज़िशन में लाया, अब पिंकी का मुँह मीना की चूत और गांड की तरफ था और मीना का मुँह पिंकी की चूत और गांड की तरफ था। फिर मैंने एक चुन्नी लेकर उन दोनों के हाथ बाँध दिए और फिर केंडी वाली आइसक्रीम निकाली और उन दोनों की चूत में घुसा दी। तो वो दोनों ऊऊहह निकालो-निकालो ठंडा लग रहा है कहने लगी, लेकिन मैंने उनकी एक नहीं सुनी। उन दोनों की चूत में इतनी गर्मी थी की वो आइसक्रीम भी पिघलने लगी थी।

फिर मैंने उन दोनों को कहा कि चाटो एक दूसरे की चूत, तो वो दोनों वैसा ही करने लगी। अब मैंने उन दोनों से एक दूसरे की चूत 5 मिनट तक चटवाई। फिर में पिंकी के मुँह के पास गया मैंने पहले अपना लंड उसके मुँह में डाला, तो वो अच्छे से चूसने लगी और जैसे ही उसने मेरा लंड गीला किया, तो मैंने मीना की चूत में मेरा लंड डालना शुरू कर दिया। अब मीना तो अपने मुँह से आआओउ मम्मी दर्द हो रहा है, मीना की चूत गीली थी तो मुझे और भी ज्यादा मज़ा आ रहा था। अब पिंकी अपनी जीभ निकाल-निकालकर मेरे लंड पर थूक टपका रही थी। फिर पिंकी ने कहा कि जल्दी करो ना मेरी चूत तड़प रही है, तो मैंने कहा कि रुक जा अभी तेरी चूत की बारी आएगी। फिर में अपना लंड अंदर बाहर करने लगा, अब मीना के मुँह से ऊओ आआहह और ज़्यादा थूक की वजह से फ़च-फ़च की आवाज़ें आने लगी थी। अब मेरा निकलने वाला था तो मैंने अपना लड़ बाहर निकाला और सारा पिंकी के मुँह पर निकाल दिया और उसका फेशियल कर दिया, अब थोड़ा सा उसकी नाक पर गिरा और जब वो टपकने लगा, तो पिंकी अपनी जीभ बाहर निकालकर उसको चाटने लगी।

फिर में मीना के मुँह के पास गया, तो उसने पहले मेरे लंड को चूसना शुरू किया, मीना तो है ही वेक्कुमए क्लीनर अंदर बाहर, अंदर बाहर। अब मुझे तो उसका मुँह ही चोदने में बहुत मज़ा आ रहा था, फिर मैंने पिंकी की चूत में अपना लंड डालना शुरू किया, पिंकी की चूत थोड़ी टाईट थी लेकिन पूरी तरह से गीली थी। अब उसका माल चूत से बाहर निकल रहा था, फिर मैंने थोड़े धक्कों के साथ अपना लंड अंदर डाला, तो पिंकी बस आईईईईईई मर गई माँ फट गई बोलने लगी। फिर मैंने उन दोनों की चूत को चोदने के बाद मैंने उन दोनों को खोल दिया। फिर वो दोनों मेरे ऊपर चढ़ गई, अब मीना की चूत मेरे मुँह पर थी। फिर में उसकी चूत को चाटने लगा और उसकी चूत के अंदर अपनी जीभ डालकर उसको और तड़पाने लगा।

loading...

अब वो दोनों मुझे तड़पा रही थी, फिर मैंने अपनी एक उंगली को अपने थूक से गीला किया और उसकी गांड के छेद में डालने लगा। अब पिंकी और मीना दोनों मिल बाँटकर मेरे लंड को चूस रही थी, अब कभी पिंकी मेरे मुँह पर बैठ जाती, तो कभी मीना मेरे मुँह पर बैठ जाती। हाए क्या मज़ा आ रहा था? क्या बताऊँ? लेकिन मीना को अभी भी अपना बदला लेना था। फिर उसने पिंकी को बेड पर लेटाया और उसके मुँह पर बैठ गई और ज़ोर से हवा छोड़ी, तो शायद उसके नाक के बाल भी जल गये होंगे और वो दोनों फिर से तू कुत्ती, तू कमिनी, लड़ने लगी। लेकिन अब दो नंगी जंगली बिल्लियों को लड़ता देखने का मज़ा ही कुछ और था। अब मुझे पेशाब आ रहा था तो मैंने उनको कहा कि में अभी पेशाब करके आया, तो तब पिंकी ने कहा कि रूको में भी आई और मीना भी आ गई। फिर पिंकी ने मेरा लंड पकड़ा और उसको हिलाने लगी, अब वो मेरा लंड कभी मीना के मुँह में डालती, तो कभी अपने मुँह में ले लेती। अरे यार क्या बताऊँ? ऐसे में पेशाब करना कितना मुश्किल होता है, अब मेरा प्रेशर के साथ थोड़ा दर्द करते हुए निकलने लगा था, तो तभी पिंकी ने मेरा लंड मीना की तरफ कर दिया और मेरा पेशाब उसके ब्रेस्ट पर गिरा दिया।

फिर मीना ने भी पिंकी के ऊपर बहुत सारा पेशाब गिराया और पोर्ट में कम पेशाब गिराया, अब में क्या करूँ? मुझे तो बहुत मज़ा आ रहा था। फिर लास्ट की जब 2-3 बूंदे बची, तब मीना मेरे लंड को अपने मुँह में डालकर चूसने लगी, अब तो मुझे दर्द भी हो रहा था। अब मेरे पीछे ही बाथटब था तो फिर मैंने कहा कि चलो तीनों साथ में नहाते हैं। फिर मैंने बाथटब को तैयार किया, फिर हम तीनों एक साथ नहाने के लिए घुस गये, अभी मैंने बाथटब में साबुन नहीं डाला था, वो नॉर्मल पानी था। तो मीना ने लंबी सांस ली और टब में अपना मुँह डालकर मेरा लंड चूसने लगी। अब पिंकी भी डॉगी स्टाईल में अपनी चूत और गांड को मेरे मुँह पर रगड़ने लगी और मीना की चूत में उंगली करने लगी थी। अब हम काफ़ी देर तक वैसे ही करते रहे, फिर मेरा पानी निकल गया, अब मीना और पिंकी का पानी पहले ही निकल चुका था, अब हम सब थक चुके थे। फिर उन दोनों ने कहा कि अब स्वीट डिश का टाईम है, तो मैंने कहा कि स्वीट डिश? तो उन दोनों ने एक क्रीम निकाली और अपनी गांड पर डालने लगी और फिर मेरे लंड पर डाली। फिर उन दोनों ने कहा कि अब हमारी गांड तो मारो ना, स्वीट डिश तो खाओ। अब उन दोनों ने मेरे लंड को बहुत चिकना कर दिया था और अपनी गांड के छेद को भी चिकना कर दिया। फिर मैंने पिंकी के ऊपर मीना को लेटा दिया और उन दोनों की गांड को खूब ठोका, अब मुझे उन दोनों की गांड को ठोकने में बहुत मज़ा आ रहा था। फिर मैंने उन दोनों जंगली बिल्लियों को बहुत ठोका और उन दोनों को बहुत मज़ा दिया और खुद ने भी मज़ा लिया।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!