दोस्त की पहली चुदाई उसके घर पर

0
loading...

प्रेषक : राहुल …

हैल्लो दोस्तों, में हिमाचल प्रदेश के एक शहर में रहता हूँ और में एक हैंडसम और गठीले बदन वाला लड़का हूँ। हालाँकि अब तक में बहुत सारी लड़कियों, आंटियों, भाभियों को चोद चुका हूँ। उनको भी मेरे साथ चुदवाने में बड़ा मज़ा आता है। मेरा लंबा और मोटा लंड किसी भी कुंवारी और चुदी चुदाई चूत संतुष्ट करने के लिए तैयार है, लेकिन इस समय में अपनी एक और सेक्स स्टोरी आप लोगों को सुनाने जा रहा हूँ। अब में आप लोगों को ज़्यादा बोर नहीं करते हुए मेरी पहली सेक्स स्टोरी सुनाने जा रहा हूँ। में एक बड़ा ही हैंडसम आदमी हूँ।

यह कुछ 3 साल पहले की बात है, जब में एक कंपनी में काम करता था और मेरे ऑफिस में एक बहुत सी स्लिम और सेक्सी लड़की थी, जिनका नाम रूपाली था। हम दोनों साथ में काम करते थे और थोड़ी बहुत हंसी मज़ाक भी करते थे, लेकिन हमारी बात सिर्फ़ हंसी मज़ाक तक ही थी। हमने कभी कोई ऐसी वैसी बात सोची भी नहीं थी। फिर एक दिन जब में उसके घर गया और दरवाजा खोला तो दरवाजा खुल गया और फिर में अंदर गया और देखा तो घर में कोई नहीं था, इसलिए मैंने अंदर देखा तो मेरी आँखें फटी की फटी रह गयी थी। तब मैंने देखा कि रूपाली कपड़े बदल रही है और सिर्फ़ ब्रा और पेंटी में थी। उसका फिगर साईज यही कोई 26-24-26 था। अब उसकी गोरी-गोरी टाँगे और मस्त बूब्स मुझे बैचेन करने लगे थे और मेरा लंड टाईट होकर खड़ा हो गया था और अब में उसे मेरे एक हाथ से दबाने लगा था। तभी रूपाली का ध्यान मुझ पर गया और में वहाँ से ड्रॉईग रूम में आ गया।

फिर थोड़ी देर के बाद वो भी मेरे पास आई और चाय के लिए पूछा, लेकिन अब मुझे तो उसके रूप का अमृत पीने की इच्छा हो गयी थी। तब मैंने मौका देखकर उसे अपनी बाँहों में भर लिया और किस करने लगा था। तब उसने थोड़ा विरोध किया। फिर थोड़ी देर तक हमारा ये सेक्सी ड्रामा चलता रहा। तभी डोरबेल बजी और मुझे उसे छोड़ना पड़ा और फिर में वहाँ से चला आया। फिर दूसरे दिन मैंने उसे चोदने के बारे में डाइरेक्ट ही पूछ लिया तो वो घबरा गयी और कहा कि ये सब अभी नहीं। तब मैंने उससे कहा कि तुम बोलो तो तुम्हारे घर पर या फिर किसी होटल में रूम लेकर हम लोग इन्जॉय कर सकते है। तब उसने बोला कि अभी ये कुछ नहीं करना है। तब में निराश हो गया और इस बात को भूलने की कोशिश करने लगा था। अब इस बात को करीब 6 महीने बीत गये थे। में अब उस कंपनी में काम नहीं करता था।

फिर एक दिन रूपाली का मुझे फोन आया कि उसकी शादी होने वाली है और वो अमेरिका चली जाएगी। तब मैंने उसे मिलने के लिए राज़ी कर लिया। फिर हम दोनों एक रेस्टोरेंट में मिले और मैंने फिर से उसके साथ सेक्स के लिए पूछा। तब उसने कहा कि अब ये संभव नहीं है, क्योंकि कल मेरी शादी है और फिर में अमेरिका चली जाऊंगी। अब मानों मेरे तो सारे ख्वाब टूट गये थे। फिर मैंने उसे अपनी बाँहों में भरकर खूब दबाया। अब उसके बूब्स मेरी छाती पर रगड़ रहे थे और मेरा लंड उसकी चूत को छू रहा था और इसी बीच मेरा लंड खड़ा हो गया था और उसकी चूत के दरवाज़े पर दस्तक देने लगा था। अब उसे भी थोड़ा मज़ा आ रहा था, लेकिन हम दोनों इस पोज़िशन में नहीं थे की हम चुदाई कर सके। फिर थोड़ी देर तक हमने कपड़ो के ऊपर से ही मज़ा लिया। फिर मैंने उसके बूब्स खूब दबाए और उसकी चैन खोलकर उसकी चूत में अपनी एक उंगली डालकर उसे सॅटिस्फाइड किया। तब उसने मेरा लंड मेरी पेंट के ऊपर से ही दबा-दबाकर मेरा पानी निकाल दिया। फिर थोड़ी देर के बाद वो चली गयी और में उदास हो गया।

फिर 2 साल के बाद एक दिन रूपाली का फोन मेरे मोबाईल पर आया और फिर उसने कहा कि तुम अभी के अभी मेरे घर पर आ जाओ। तब में समझ गया कि वो इंडिया आ चुकी है। फिर में फ़ौरन उसके घर पहुँचा और देखा तो उसने पिंक कलर की बड़ी सेक्सी गाउन पहनी थी और वो घर में बिल्कुल अकेली थी। फिर मैंने उसे अपनी बाँहों में भर लिया और उसे दबाने लगा था। तब उसने भी मेरा अच्छा रेस्पोन्स दिया। अब में समझ गया था कि अब लाईन क्लियर है, अब रूपाली चुद जाएगी। फिर मैंने उसे मेरी गोद में उठा लिया और उसके बेडरूम में ले गया। फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसके गुलाबी होंठो पर किस किया। तब उसने भी किस करके मेरा रिप्लाई दिया। फिर हमने फ्रेंच किस किया, जो कि करीब 10 मिनट तक चला। अब हम दोनों बहुत गर्म हो चुके थे। अब उसका हाथ मेरे लंड पर मेरी पेंट के ऊपर से ही खेल रहा था और में उसे किस करते हुए उसके बूब्स दबा रहा था और कपड़ो के ऊपर से ही उसे चूस रहा था।

loading...

फिर मैंने उसका गाउन उतार दिया। अब वो मेरे सामने ब्लेक कलर की ब्रा और पेंटी में बेड पर लेटी हुई थी, वो क्या कयामत लग रही थी? उसे देखकर किसी का भी लंड उसे चोदने के लिए फनफनाने लगेगा। अब मेरा लंड फुल जोश में आ गया था और बाहर आने के लिए तड़पने लगा था। फिर उसने भी मेरे सारे कपड़े निकालकर मुझे नंगा कर दिया। तब में भी उसकी ब्रा और पेंटी निकालकर उसे नंगा करके देखने लगा, उसकी गुलाबी चूत बड़ी प्यारी लग रही थी, उस पर एक भी बाल नहीं था और उसकी चूत बड़ी टाईट थी। तब मैंने पूछा कि इतनी टाईट चूत क्यों है? तो तब वो बोली कि मेरे राजा तुम्हारे लंड को लेने के लिए ये तड़प रही है। यह सुनकर मुझे जोश आ गया और में बड़ी ज़ोर-जोर से उसे चूमने लगा। अब उसने मेरे लंड को अपने हाथ में लेकर दबाना शुरू किया था। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

loading...

फिर जब उसने मेरे 9 इंच लंबे लंड को देखा तो उसकी आँखें फटी की फटी रह गयी और फिर रूपाली बोली कि अरे बाबा तेरा तो कितना बड़ा है? में इसे मेरी चूत में नहीं ले सकूँगी, तेरा लंड तो मेरी फाड़कर रख देगा। तब मैंने कहा कि कुछ नहीं होगा, मेरी प्यारी रानी बड़ा मज़ा आएगा। बस थोड़ा सा दर्द होगा, उसे सह लेना बाद में तो मज़ा ही मज़ा है रानी। फिर हम दोनों 69 पोजिशन में आ गये। अब में उसकी चूत चाट और चूस रहा था और वो मेरे लंड को लॉलीपोप की तरह चूस रही थी। फिर करीब 15-20 मिनट के बाद मेरा पानी उसके मुँह में ही निकल गया और इस दौरान वो 3 बार अपनी चूत का अमृत रस छोड़ चुकी थी। फिर उसने मेरे लंड को चूस-चूसकर साफ किया और अब मेरा 9 इंच का लंड फिर से फुल साईज में आ गया था। फिर मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसकी कमर के नीचे एक तकिया लगाकर उसके पैर मेरे कंधो के ऊपर रख लिए, जिससे उसकी चूत पूरी तरह से खुलकर मेरे सामने मुझे चोदने के लिए न्योता देने लगी थी।

फिर मैंने उसकी चूत के लिप्स पर मेरा लंड टिकाया और एक हल्का सा धक्का लगाया, लेकिन उसकी चूत बहुत टाईट होने की वजह से मेरा लंड अंदर नहीं जा सका और फिसलकर उसकी गांड की दरार में फंस गया था। फिर में उसके ड्रेसिंग टेबल से थोड़ा तेल लेकर आया और फिर मैंने मेरे खड़े हुए मोटे लंड पर और उसकी चूत में थोड़ा तेल लगाया और फिर एक हल्का सा धक्का लगाया तो मेरे लंड का टोपा उसकी मस्त चूत में घुस गया और उसके मुँह से एक दर्द भरी आहह निकल गयी थी। फिर मैंने थोड़ा और ज़ोर लगाया तो वो तड़पने लगी थी। अब उसे बहुत दर्द हो रहा था। तब उसने कहा कि प्लीज बाहर निकालो नहीं तो में मर जाऊंगी, तुमने तो मेरी चूत फाड़ दी। तब मैंने कहा कि थोड़ा सब्र करो मेरी रानी, फिर बड़ा मज़ा आएगा। अब में उसके मस्त बड़े-बड़े बूब्स दबाने लगा था और उसे फ्रेंच किस करते हुए अपने लंड से धक्का लगाने लगा था।

loading...

फिर मैंने एक ज़ोर का धक्का लगाया कि मेरा पूरा 9 इंच का लंड उसकी चूत में घुस गया और वो चिल्ला पड़ी, लेकिन फ्रेंच किस की वजह से उसकी आवाज नहीं निकल पाई थी, मगर उसकी आँखों से आँसू निकल आए थे। फिर में थोड़ी देर तक हिले बगैर ऐसे ही मेरा लंड उसकी चूत में फंसाए हुए पड़ा रहा और उसे सहलाने लगा था। फिर करीब 5 मिनट के बाद उसने अपनी गांड उछालनी शुरू कर दी और अब में समझ गया था कि वो अब तैयार है। फिर में घपाघप उसे चोदने लगा। अब तो वो भी अपनी गांड उछाल-उछालकर मुझसे चुदवाने लगी थी और बोल रही थी और ज़ोर से मेरे राजा, तुम बहुत अच्छा चोद रहे हो और ज़ोर से चोदो अपनी रानी को, आज तो अपनी रूपाली की चूत फाड़कर उसका भोसड़ा बना दो। अब उसकी ऐसी बात सुनकर मुझे भी जोश आ गया था और अब में उसे बड़ी तेज़ी से चोदने लगा था। फिर मैंने उसे 15 मिनट तक चोदने के बाद उसे डॉगी स्टाइल में चोदना चालू किया। अब तक वो 3 बार झड़ चुकी थी।

अब उसकी चूत में से निकलता हुआ पानी और भी मज़ा दे रहा था और अब मेरा लंड बड़ी आसानी से उसकी चूत में अंदर बाहर हो रहा था। अब उसके मुँह से बड़ी अजीब सी आवाज़ें आ रही थी। हम्मम्म, उउऊहह और जोर से, हाईईईई राजा, आह फाड़ दो अपनी रानी की चूत को, आज तुमने मुझे बड़ा मज़ा दिया है, अब तो में जब तक इंडिया में हूँ में हर रोज तुमसे चुदवाऊँगी और जब भी यहाँ आऊंगी तो तुमसे ही चुदवाऊँगी मेरा सैया। फिर मैंने उसे करीब 30 मिनट तक चोदा। अब तब तक वो 7-8 बार झड़ चुकी थी। फिर वो मेरे लंड के ऊपर बैठ गयी और अपनी गांड उठा-उठाकर मुझे चोदने लगी थी। अब वो पूरी तरह से मदहोश हो चुकी थी। फिर करीब 5 मिनट के बाद जब मेरा पानी निकलने वाला था तो तब मैंने उससे कहा कि मेरा पानी निकलने वाला है। तो वो बेड पर लेट गयी और बोली कि मेरी चूत की जड़ तक अपना पानी गिरा दो। फिर क्या था? मैंने उसकी चूत फिर से पेलनी शुरू कर दी और 2-3 मिनट के बाद मेरे पानी की एक धार उसकी चूत में छोड़ दी और मेरा सारा वीर्य उसकी चूत में गहराई तक छोड़ दिया था। फिर हम दोनों उठे और बाथरूम में एक साथ नहाने गये और फिर मैंने उसे बाथरूम में दूसरी बार 10 मिनट तक चोदा और फिर हम दोनों अपने-अपने कपड़े पहनकर तैयार हुए और फिर में अपने घर चला आया ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!