गर्लफ्रेंड की टाईट चूत को खूब चोदा

0
Loading...

प्रेषक : अंकित …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम अंकित है। में दिल्ली का रहने वाला हूँ, मेरी उम्र 24 साल है, मेरी बॉडी एथलेटिक्स है। अब में आपको मेरी गर्लफ्रेंड के बारे में भी बता दूँ। मेरी गर्लफ्रेंड रिया है, उसकी उम्र 22 साल है, वो दिखने में बहुत हॉट और सेक्सी है, उसका फिगर साईज 34-30-34 है। अब में आपका समय ख़राब ना करते हुए सीधा अपनी स्टोरी पर आता हूँ। हम पहली बार मेरे दोस्त रिषभ की बर्थ-डे पार्टी में मिले थे। रिया रिषभ की गर्लफ्रेंड कणिका की फ्लेटमेट थी, तो वो कणिका की साईड से इन्वाइटेड थी। मैंने जब पहली बार रिया को देखा तो बस देखता ही रह गया, उसका पूरा बदन गोरा था, वो ब्लेक ड्रेस में कयामत लग रही थी। फिर हमने पार्टी में बहुत मस्ती की और बहुत सारे पिक्स भी लिए। फिर जब पार्टी ख़त्म हुई तो मैंने रिषभ से मुझे मेरे फ्लेट पर ड्रॉप करने को कहा, तो वो मान गया मेरा फ्लेट कणिका के फ्लेट के नज़दीक ही था।

फिर में, रिषभ, कणिका और रिया रिषभ की कार से कणिका के फ्लेट के लिए निकल पड़े। फिर रास्ते में रिषभ ने एक वाईन शॉप से शेम्पियन की बोतल ली और हम फिर से कणिका के फ्लेट की और चल पड़े। अब कार में रिषभ और कणिका आगे बैठे थे और में और रिया पीछे बैठे थे, फिर हम सब बातें करने लगे और इस बीच रिया से मेरी काफ़ी अच्छी जान पहचान हो गयी। अब मुझे रिषभ और कणिका के सेक्स करने का प्लान पहले से पता था इसलिए में मौके का फ़ायदा उठाना चाहता था, ताकि में रिया के साथ टाईम स्पेंड कर सकूँ। फिर जब हम कणिका के फ्लेट पर आ गये, तो रिषभ ने मुझसे कहा कि हम ऊपर जा रहे और मुझे कार की चाबी दे दी। अब वो भी समझ चुका था कि मुझे रिया पसन्द है, तो मैंने भी मुस्कुराकर कार की चाबी उससे ले ली।

फिर जब रिया गेट खोलकर अपने फ्लेट में जाने को हुई, तो मैंने उसे रोकते हुआ कहा कि तुम कहाँ चली? तो वो बोली कि मेरा फ्लेट आ गया है में भी कणिका के साथ ही रहती हूँ। फिर मैंने कहा कि आज रिषभ का बर्थ-डे है और आज उन लोगों का अलग ही प्लान है, तो उन दोनों को अकेला ही छोड़ दो। तो उसने अंजान बनते मुझसे पूछा कि अच्छा क्या प्लान है? तो मैंने कहा कि अच्छा तो तुम्हें नहीं पता, तो उसने साफ मना कर दिया। फिर मैंने उसे बताया कि आज उनका सेक्स करने का प्लान है। फिर हम काफ़ी देर तक फ्लेट की पार्किंग में कार में बैठकर बातें करते रहे, फिर हमने पार्टी के पिक्स और अपने मोबाईल नंबर एक्सचेंज किए।

फिर मैंने बातों-बातों में उसकी वर्जिनिटी के बारे में पूछा, तो उसने बताया कि वो वर्जिन है। अब ये सुनते ही में उसकी चूत को इमेजिन करने लगा। फिर उसने मुझे टोकते हुए कहा कि क्या हुआ? और मेरे वर्जिन होने के बारे में पूछा, तो मैंने कहा कि में भी वर्जिन हूँ और बस हम दोनों हंस पड़े। फिर में उसे थोड़ी दूर ड्राइव पर ले गया और वापस आते समय उसने गाड़ी चलाने की ज़िद की। तो मैंने उसे गाड़ी चलाने के लिए दे दी ये पूछकर कि उसे गाड़ी चलाने आती भी है या नहीं। तो उसने कहा कि आज तक उसने कभी नहीं चलाई, तो मैंने कहा कि कोई बात नहीं में हूँ ना और उसे गाड़ी चलाने को दे दी और थोड़ा समझाने के बाद मैंने उसे गाड़ी चलाने को दे दी। अब में स्टेरिंग संभालने में उसकी मदद कर रहा था और थोड़ी देर तक गाड़ी चलाने के बाद हम वापस फ्लेट पर आ गये। अब उसने थोड़ी ही देर में अच्छा कार चलाना सीख लिया था।

फिर करीब सुबह 4 बजे रिषभ नीचे आया और हम अभी भी बातें कर रहे थे और फिर हमें जाना पड़ा। अब रिषभ बहुत खुश लग रहा था, उसे उसके बर्थ-डे का इतना अच्छा गिफ्ट जो मिला था, फिर में भी रिया को बाय बोलकर चला गया। अब हम रोज मैसेज चैट करने लगे थे, अब हम दोनों रिषभ, कणिका के साथ मूवी, शॉपिंग, पार्टी भी साथ में करने लगे थे। तो इस तरह मैंने मौका देखकर रिया को प्रपोज़ कर दिया और वो मुझे मना नहीं कर पाई। अब हम रोज रोमांटिक बातें करने लगे थे, अब हम रोज रात को अपने पिक्स एक्सचेंज करते, फिर एक रात मैंने उसे अपने बूब्स की पिक्स सेंड की, तो वो हॉट हो गई और फिर हमारी बातें सेक्स चैट तक आ गई। अब वो भी मुझे अपने बूब्स, लिप्स, जांघो के पिक्स सेंड करने लगी थी। फिर जब एक हफ्ते के लिए मेरा रूम पार्टनर अपने घर गया, तो रिषभ ने मुझसे अपने फ्लेट की चाबी माँगी, तो में समझ गया कि क्या प्लान है?

फिर मैंने तुरंत रिषभ से कहा कि यार मेरे फ्लेट पर रिया को भी बुला लेते है, वहाँ दो रूम है और हम दोनों खूब मस्ती करेंगे, तो वो भी तैयार हो गया। फिर हमने कणिका और रिया से पार्टी की बात की इसलिए वो दोनों भी मान गयी और हमने उनको सेक्स के बारे में नहीं बताया। फिर वो दोनों शाम को मेरे फ्लेट पर आ गई और हमने खूब डांस मस्ती की। अब में बहुत खुश था क्योंकि रिया को मैंने सेक्स के लिए मना लिया था, वो भी बेसब्री से सेक्स करने का इंतज़ार कर रही थी। फिर हमने पार्टी को बीच में ही रोका और अपने-अपने रूम में चले गये और फिर रूम अंदर से लॉक कर लिया। अब अंदर जाते ही मैंने रिया को ज़ोर से हग किया और उसके होठों पर किस करने लगा। अब वो भी मुझे ज़ोर से पकड़े हुई थी और मुझे लिप किस कर रही थी, वो बहुत हॉट लग रही थी और में बस उसकी चूत में अपना लंड डालने का इंतज़ार कर रहा था। फिर थोड़ी देर तक किस करने के बाद मैंने उसे बेड पर लेटा दिया और उसके ऊपर चढ़ गया और उसके गाल पर, गर्दन पर पागलों की तरह चूसने चाटने लगा और साथ ही उसके बूब्स को अपने दोनों हाथों से मसल रहा था।

Loading...

अब वो ऊऊफफ़्फ़ आहह आह कर रही थी, फिर में दुबारा से उसके होठों को चूसने लगा और अपना थूक उसके मुँह में डालने लगा। अब मैंने उसके मुँह में इतना थूक भर दिया था कि उसकी साँसो से मेरी साँसो की खुशबू आ रही थी। अब उसे भी बहुत मज़ा आ रहा था, अब उसके होंठ चूसते हुए में उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ रहा था। फिर थोड़ी देर के बाद में उठा और उसके कपड़े खोलने लगा, अब वो अपनी आँखें नीचे झुकाकर बैठी रही और मैंने उसके सारे कपड़े उतार दिए। उउउफफफ्फ़ क्या कयामत लग रही थी वो? उसका गोरा बदन, गुलाबी निपल, गुलाबी चूत उउफ़फ्फ़। फिर में अपने कपड़े उतारकर उसके साथ लेट गया, अब में उसकी चूत पर अपना लंड रगड़ रहा था। फिर जैसे ही मैंने मेरा लंड उसकी चूत के छेद पर ज़ोर से लगाया, तो उसकी चीख निकल आई। अब तक उसको मेरे लंड की ताक़त मालूम हो चुकी थी, मेरा लंड काला, 6 इंच लंबा और 3 इंच मोटा है।

अब मुझे अपने लंड को उसकी चूत पर रगड़ते हुए काफ़ी समय हो गया था और वो इस बीच वो एक बार अपना पानी छोड़ चुकी थी। अब में लगातार उसके बूब्स को दबा रहा था और उसके निपल को मसल रहा था। अब मेरी उसके बूब्स को चूसने की बारी थी, उउउफफफ्फ़ अभी उसके बूब्स काफ़ी छोटे थे और बहुत गोल-गोल और बीच में छोटी सी निपल थी। उउउफफफ्फ़ अब मुझे उसके बूब्स को चूसने में बहुत मजा आ रहा था, अब मैंने उसके बूब्स और निपल पर बहुत सारे दाँत के निशान बना दिए थे। अब उसे भी बहुत मजा आ रहा था, फिर में उसके पैरों के बीच में आ गया और उसे अपनी टाँगे फैलाने को कहा, तो उसने अपनी दोनों टाँगे चौड़ी कर ली। फिर में उसकी गोरी, चिकनी, शेव्ड चूत को चूसने लगा और चाटने भी लगा। अब में कभी अपनी जीभ उसकी चूत के अंदर घुसाकर चाटता, तो कभी उसकी चूत को मेरे मुँह में भरकर बाहर की तरफ खींचता। अब तो वो मेरा सिर पकड़कर अपनी चूत पर दबा रही थी और अपना पानी मेरे मुँह में ही छोड़ रही थी, पहली बार उसे इतना मजा आ रहा था।

Loading...

फिर में उसकी जांघो पर किस करते हुए उठा, अब मजा लेने की बारी मेरी आई फिर मैंने उससे अपना लंड मुँह में लेने को कहा, तो वो मना करने लगी। अब उस वक़्त में बहुत एग्जाइटेड था और उसके मना करने पर भी मैंने अपना लंड रिया के मुँह में दे दिया और अंदर बाहर करने लगा। अब उसका ये पहली बार था तो मैंने भी बीच में ब्रेक ले लिया और फिर दुबारा से उसे लंड चूसने को कहा। तो इस बार वो आराम से तैयार हो गई और फिर धीरे-धीरे से उसने मेरा लंड चूसना शुरू किया। आहह अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था ये मेरा पहली बार था, अब मुझे पहले तो कुछ समझ में नहीं आया फिर जब उसने मेरे लंड का टोपा अच्छे से चूसना शुरू किया, तो फिर मुझे मजा आ गया। अब मेरा लंड पूरा तन गया था, अब बारी मेरे लंड और रिया की चूत के मिलने की थी। फिर मैंने उसे बेड के किनारे लेटाया और उसके पैरों को हवा में उठाकर मोड़ने को कहा। अब में नीचे ज़मीन पर खड़ा होकर रिया की चूत में अपना लंड डालने की कोशिश कर रहा था।

अब मेरे लंड का सुपाड़ा अंदर तो घुसा, लेकिन मेरा लंड उसकी चूत की सील को तोड़ नहीं पाया। फिर मैंने 4-5 बार कोशिश की, लेकिन फिर भी मेरा लंड उसकी चूत के अंदर नहीं गया। अब रिया बस मुझे ही देख रही थी, फिर मैंने उसे देखा और उसके होठों पर किस किया और फिर उसकी चूत पर और अपने लंड पर थोड़ी सी वैसलिन लगाकर उसकी चूत में अपना लंड ज़ोर के धक्के के साथ पेल दिया। उफफफ आहह क्या टाईट चूत है उसकी? आहह उउफफफ्फ़ मज़ा आ गया। अब रिया की तो जैसे आवाज़ ही कहीं गायब हो गई थी, अब वो दर्द से रोने लगी थी। फिर में थोड़ा रुककर उसके होठों को चूमने लगा और फिर कुछ देर के बाद उसके मुँह को अपने मुँह में लेकर बंद कर दिया और जोर से एक और झटका दिया। तो वो मुझे पीछे धक्का देने लगी, आहहहह उसकी चूत अंदर से बहुत गर्म थी और बहुत टाईट भी थी उउउफ़फ्फ़। फिर में कुछ देर तक रुका रहा और फिर उठकर धीरे-धीरे से झटके देना लगा, अब वो अभी भी रो रही थी और उसकी आँखों आँसू निकल रहे थे। अब में जोर से एक और झटका देने वाला था, जिससे मेरा पूरा लंड उसकी चूत में अंदर चला जाता।

फिर जैसे ही मैंने अंदर धक्का दिया तो रिया मुझे ज़ोर से धक्का देने लगी और मेरा लंड उसकी चूत से बाहर निकालने को कहा, तो मैंने प्यार से उसके होंठो को चूमा और उसको शांत कराया। फिर कुछ देर के बाद जब उसका दर्द कम हुआ, तो मैंने फिर से उसकी चूत के अंदर अपना लंड पेलना स्टार्ट कर दिया। अब मुझे बहुत मजा आ रहा था, अब में बहुत तेज़ी से उसकी चूत को चोद रहा था और साथ में उसकी चूत के ऊपर अपनी उंगली फैर रहा था। अब में बहुत मजे से उसे चोद रहा था, अब मुझे उसकी चूत की गहराई अपने लंड से नापने में बहुत मजा आ रहा था। अब में रिया को बहुत ज़ोर-ज़ोर से चोद रहा था, अब उसको भी बहुत मजा आ रहा था और वो भी मेरी आँखों में देखकर अपनी गांड आगे पीछे हिला रही थी। अब में बहुत जोश में था और बहुत ज़ोर से रिया की चूत चोद रहा था, अब वो ज़ोर-ज़ोर से मेरा नाम ले रही थी।

अब में भी जोश में अपना लंड पूरा बाहर निकालकर एक बार में पूरा अंदर रिया की चूत में घुसाकर उसको मजा दे रहा था। अब वो भी चुदते वक़्त उउउफ़फ्फ़ आहह फुक मी अंकित, आहह फुक मी बोलकर मेरे लंड का हौसला बड़ा रही थी। अब वो चुदते समय 2 बार झड़ी और उसने बहुत मजा लिया। अब मेरा भी पानी निकलने वाला था और फिर मैंने उसकी चूत में ही अपना सारा पानी निकाल दिया और उसके उसके ऊपर ही लेट गया और रिया के बूब्स चूसने लगा। अब हम दोनों ही बहुत थक गये थे, फिर जब मैंने अपना लंड रिया की चूत में से बाहर निकाला, तो मेरे लंड पर बहुत सारा खून लगा हुआ था। फिर मैंने हम दोनों को साफ किया और अपने-अपने कपड़े पहनकर बाहर आ गये। फिर अगले दिन में रिया से मिलने उसके फ्लेट पर गया और मुझे इतना अनमोल गिफ्ट देने के लिए मैंने भी उसे गिफ्ट दिया और उसे बहुत सारे किस भी किए। फिर उसने मुझे बताया कि उसकी चूत बहुत सूज गई है, तो मैंने थोड़ी देर तक उसकी चूत पर अपनी उंगली से मसाज भी की और फिर मैंने आगे भी रिया की खूब चुदाई की ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!