मेरी स्वीट गर्लफ्रेंड की चुदाई

0
loading...

प्रेषक : शिवाय  …

हैल्लो दोस्तों, मेरा नाम शिवाए है, में यमुना नगर (हरियाणा) का रहने वाला हूँ। में आज अपनी रियल कहानी आपके साथ शेयर करने जा रहा हूँ। मेरी गर्लफ्रेंड का नाम रिया है और हम दोनों शुरू से ही आपस में बहुत फ्रेंक थे। मेरी गर्लफ्रेंड का फिगर बहुत ही शानदार है। में जब भी उसके पास खड़ा होता था तो में कभी खुद पर कंट्रोल नहीं कर पाता था। में हमेशा से कभी उसके कूल्हों को टच करता या कभी अपने लंड से उसकी गांड दबा देता था। हम फोन पर हमेशा ही फोन सेक्स करते थे। फिर एक दिन हमने एक होटल में मिलने का प्रोग्राम बनाया। फिर हम मिले और ऊपर रूम में चले गये और अंदर पहुँचते ही मैंने उसे ज़ोर से पीछे से पकड़ लिया और फ्रेंच किस करने लगा तो उसने भी मेरा बहुत अच्छा रेस्पॉन्स दिया, हालाँकि ये हमारे लिए कुछ नया नहीं था, लेकिन जब भी हम किस करते थे तो हमें बहुत अलग महसूस होता था।

loading...

अब अंदर जाते ही मैंने उसके सारे कपड़े उतार दिए थे और उसने मेरे कपड़े उतार दिए थे। फिर मैंने पहले उसके बूब्स को चूसना शुरू किया। अब उस पर मदहोशी चढ़ने लगी थी। फिर में उसके बूब्स को चूसते हुए नीचे जाता रहा और जैसे ही उसकी चूत के लिप्स को सक करना शुरू किया। तो उसके मुँह से बहुत तेज मोनिंग होने लगी, क्या कहूँ? अब मुझे उसकी चूत को चाटने में बहुत मज़ा आ रहा था। वो मेरे लिए भी बहुत ही अनोखा अनुभव था। फिर वो मोनिंग करती रही और में उसकी चूत को चाटता रहा। फिर में धीरे-धीरे ऊपर उठा और अब नीचे आने की बारी उसकी थी। फिर उसने भी मेरा लंड अपने मुँह में डाल लिया। अब में तो जैसे सातवें आसमान में पहुँच गया था। अब में बहुत ही ज़्यादा उत्तेजित हो गया था। फिर मैंने उसके मुँह में अपने लंड से धक्के मारने शुरू किए, क्या मज़ा आ रहा था? फिर हम दोनों 69 पोज़िशन में आ गये। अब में उसकी चूत चाटने लगा था और वो मेरा लंड चूसती रही और बहुत देर तक ऐसा ही चलता रहा।

loading...

फिर जब मुझसे कंट्रोल नहीं हुआ तो मैंने उसके मुँह में ही डिसचार्ज कर दिया। फिर उसने फिर से मेरे लंड को चूसना शुरू किया, तो मेरा लंड एक बार में फिर से खड़ा हो गया। फिर मैंने देर करना उचित नहीं समझा तो मैंने झट से उसकी टाँगों को अपने कंधों पर रखा और अपना पूरा लंड एकदम से उसकी चूत में पेल दिया। तो उसके मुँह से एक जोरदार चीख निकली, लेकिन में नहीं रुका। फिर मैंने तेज-तेज अंदर बाहर करना शुरू कर दिया। अब लगभग 20 मिनट के बाद उसने अपना पानी छोड़ दिया था,  लेकिन मेरा दिल तो अभी भी नहीं भरा था। अब मैंने उसकी गांड मारने का प्रोग्राम जो बना रखा था तो मैंने उसे डॉगी स्टाइल में आने को कहा और मैंने पीछे से जैसे ही थोड़ा सा अंदर डाला।

फिर उसके मुँह से चीख निकल गयी और उसने मुझे पीछे धक्का दे दिया, जिससे मेरा लंड उसकी गांड से बाहर आ गया। फिर मैंने थोड़ा तेल उसकी गांड पर लगाया और थोड़ा तेल अपने लंड पर लगाया, लेकिन इस बार मेरा लंड थोड़ा चिकना होने के कारण झट से अंदर घुस गया, क्या टाईट गांड थी उसकी? अब मुझे ऐसा लग रहा था जैसे किसी गर्म भट्टी में अपना लंड डाल दिया हो। फिर मैंने अपना लंड अंदर बाहर करना शुरू किया। अब मुझे बहुत ही मज़ा आ रहा था। फिर लगभग 10 मिनट तक उसकी गांड मारने के बाद में उसकी गांड में ही झड़ गया। फिर मैंने अपना सारा माल उसकी गांड में ही डाल दिया, मुझे इतना मज़ा पहले कभी नहीं आया था। फिर उसके बाद हमने कई बार सेक्स किया और खूब इन्जॉय किया ।।

loading...

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!