रुबीना और नसरीन की चूत

0
loading...

प्रेषक : जॉनी …

हैल्लो दोस्तों, क्या हाल है? दोस्तों आज में जॉनी एक बार फिर से आप सभी कामुकता डॉट कॉम पर सेक्सी कहानियों के मज़े लेने वालों को अपनी पिछली कहानी की तीसरी रात की बात को सुनाने जा रहा हूँ। दोस्तों यह बहुत ही मज़े की घटना है, क्योंकि रुबीना और नसरीन दोनों ही एक साथ आज मुझसे चुदाई करवाने के लिए तैयार थी। उन दोनों को एक साथ चुदाई के वो मज़े लेने थे और मैंने उन दोनों की उस इच्छा को वैसे ही पूरा किया जैसा उनका चाहिए था। दोस्तों उस समय हुआ यह कि रुबीना ने अपने पति को बोला था कि आज रात वो अपनी बहन के घर ही सोएगी, क्योंकि उसका पति काम की वजह से शहर से बाहर गया हुआ है और इसलिए एक रात उसको वहीं बितानी है। फिर वैसे उसकी बहन नसरीन ने उसको बोला है कि आज तुम मेरे घर ही रहो मुझे अकेले में नींद नहीं आती और फिर वो यह बात अपने पति को कहकर शाम को करीब सात बजे ही उसके घर चली गई। दोस्तों मैंने उन्हें जैसा कि कहा हुआ था कि आज मिलकर खाना खाया जाए और इसलिए वो भी खाना बनाने के लिए तैयारी करने लगी थी। अब में भी अपने साथ कुछ खाने के लिए के लिए बाज़ार से ख़रीदने चला गया और रात को करीब दस बजे मुझे नसरीन का फोन और वो मुझसे कहने लगी कि अब तुम आ जाओ, बच्चे सो गये है और खाना भी तैयार है।

फिर मैंने उसको कहा कि हाँ ठीक है में बस दस मिनट में भी आता हूँ। फिर करीब 10:15 बजे में उनके घर चला गया, वहाँ मैंने जाकर देखा कि खाना तैयार था और में भी अपने साथ मुर्गा ले गया था और फिर हम सभी ने वहाँ साथ मिलकर खाना खाया, उस समय रुबीना भी हमारे साथ थी। फिर खाना खाने के बाद रुबीना और नसरीन ने जल्दी से बर्तन साफ किए और फिर वो दोनों हमारे लिए आईसक्रीम लेकर आ गई और फिर हम सभी ने वो भी मिलकर खाई और बड़े मज़े लिए। तभी नसरीन ने बातों ही बातों में मुझसे कहा कि आज हम तुम्हें एक उपहार देने वाली है। फिर मैंने पूछा कि वो क्या? तब उन्होंने कहा कि बस तुम अभी यह सब छोड़ो ठीक समय आने पर अपने आप पता चल जाएगा। फिर आईसक्रीम को खत्म करने के बाद कुछ देर तक हम सभी ने इधर उधर की बातें की और फिर मैंने अपनी जेब से सेक्सी फिल्म की सी.डी निकाली और नसरीन से कहा कि तुम अब इसको लगा दो। फिर उसने कहा कि हाँ ठीक है और नसरीन ने उस फिल्म को लगा दिया और अब रुबीना मेरे पास आकर बैठ गई, आज वो बहुत सुंदर लग रही थी, क्योंकि वो अपने पूरे परिवार में बड़ी प्यारी है। फिर उसके बाद नसरीन ने कहा कि में अभी कुछ देर के बाद आती हूँ, तुम लोग बैठो और फिर वो अपने बच्चों के कमरे में चली गई।

अब में और रुबीना साथ बैठकर फिल्म देख रहे थे और साथ-साथ बातें भी कर रहे थे। फिर मैंने रुबीना से पूछा कि सच बताओ कि उस दिन तुम्हारी बेटी जवेरिया की मैंने तुम्हारे साथ मिलकर चूत मारकर मज़े लिए थे तब तुमने उस बात का बुरा तो नहीं माना? तब उसने कहा कि नहीं मुझे अच्छा नहीं लगा था, लेकिन अब उसकी भी शरम पूरी तरह से उतर चुकी है और मेरी भी, लेकिन नसरीन को यह बात तुम नहीं बताना कि वो भी तुमसे मरवाती है। फिर मैंने उसको कहा कि हाँ ठीक है में किसी को नहीं बताता। फिर उसके बाद नसरीन ने रुबीना को आवाज दी और फिर वो भी बाहर चली गई, करीब पांच मिनट के बाद वो दोनों कमरे में वापस आई। अब उन दोनों ने काले रंग की ब्रा-पेंटी पहनी हुई थी, जो कि बहुत ही सेक्सी लग रही थी। फिर मैंने पूछा कि आज क्या बात है? अब वो दोनों बड़े मस्त मूड में थी वो कहने लगी कि आज देखो हम तुम्हारा क्या हाल करती है? और यही एक तुम्हारे लिए चकित करने वाला उपहार है, तो में उस बात को सुनकर हंस पड़ा। फिर नसरीन ने आते ही बल्ब को बंद कर दिया और रुबीना मेरे कपड़े उतारने लगी। फिर कुछ देर के बाद उन्होंने मुझे पूरा नंगा कर दिया, उसके बाद नसरीन ने एक स्प्रे निकाला जिसके ऊपर लिखा था मैन पॉवर।

अब मुझे वो देखकर कुछ शक हुआ कि यह लंड पर स्प्रे करके चुदने के लिए टाईम बढ़ाएगी और फिर उसने वैसा ही किया। फिर उसने मेरे लंड पर बहुत सारा स्प्रे कर दिया और करीब दस मिनट के बाद मुझसे कहा कि लो धो लो और मैंने वैसा ही किया। फिर उसके बाद उन्होंने मुझे एक गोली दी और कहा कि तुम इसको खा लो। अब मैंने पूछा कि यह क्या है? तब उसने बताया कि यह चुदाई का समय बढ़ाने के लिए है, में आज यह सब स्पेशल लेडी हेल्थ वर्कर से लेकर आई थी। फिर उसके बाद रुबीना और नसरीन दोनों पूरी नंगी हो गई और वो आपस में एक दूसरे की चूत को चूसने लगी और मुझसे कहा कि तुम यह दूध का गिलास पी लो और दस मिनट इंतजार करो और फिर उसके बाद हम तुम्हारे साथ मज़े लेंगी हाहहाहा। फिर उन दोनों ने आपस में करीब दस मिनट से भी ज्यादा चूत चुसाई के मज़े लिए और वो दोनों दो बार झड़ चुकी थी। फिर कुछ देर के बाद नसरीन उठी और मुझसे कहा कि पलंग पर लेट जाओ, में पलंग पर लेट गया। अब उसने रुबीना को इशारा किया, उसने जल्दी से मेरे हाथ पकड़कर पलंग के साथ बांध दिए। अब में उस समय थोड़ा घबरा गया था, लेकिन नसरीन ने कहा कि प्लीज डरना नहीं, क्योंकि आज हम तुम्हें बाँधकर सेक्सी फिल्म की तरह करना चाहते है।

अब में चुपचाप लेटा रहा और उधर रुबीना मेरे हाथ बाँधकर मेरे लंड के पास आकर बैठ गई और उसको अपने मुँह में डाल लिया। फिर मेरा लंड तो पहले ही उन्हें देखकर खड़ा हो चुका था, लेकिन इस समय मेरा लंड बिल्कुल सुन था, मुझे कुछ भी महसूस नहीं हो रहा था शायद स्प्रे की वजह से, लेकिन मेरा लंड बहुत ज्यादा तना हुआ था। फिर रुबीना ने और नसरीन ने बीस मिनट तक मेरा लंड चूसा, लेकिन मेरे लंड से जरा सा भी पानी नहीं निकला था। अब नसरीन ने बताया कि मुझे लेडी हेल्थ वर्कर ने बताया था कि इसकी वजह से कम से कम एक घंटा असर रहता है और जो चाहो करो आदमी जल्दी ठंडा नहीं होता है। अब वो दोनों मेरे लंड को पागलों की तरह चूस रही थी, लेकिन मुझे कुछ महसूस नहीं हो रहा था। फिर उसके बाद नसरीन खड़ी हुई और मेरे मुँह पर आकर अपनी चूत रखकर बैठ गई और में उसकी चूत को चूसने लगा। फिर उधर रुबीना ने अपनी चूत मेरे लंड पर रखी और झटका देकर मेरा लंड अपनी चूत में डाल लिया और थोड़ी देर तक मेरे लंड पर अपना वजन डालकर बैठी रही और फिर उसके बाद वो तेज-तेज उछलने लगी, लेकिन अब मुझे बस इतना महसूस हो रहा था कि मेरा लंड गरम चीज के अंदर गया हुआ है, उसके अलावा कुछ नहीं।

अब रुबीना मेरे लंड पर ज़ोर-ज़ोर से उछल रही थी, मेरे हाथ पलंग के साथ बंधे थे और नसरीन मेरे मुँह पर बैठकर मुझसे अपनी चूत को चुसवा रही थी और अब तक वो एक बार मेरे मुँह में अपना पानी छोड़ चुकी थी। फिर में उसकी गांड को पकड़ना चाहता था, लेकिन वो दोनों मुझे तड़पा रही थी और अपनी मर्ज़ी से मुझे चोद रही थी। अब रुबीना का सांस चढ़ चुका था, क्योंकि वो तेज-तेज उछलकर मज़े कर रही थी और फिर करीब दस मिनट के बाद वो एकदम से मेरे लंड पर अपना वजन डालकर बैठ गई और अपनी चूत को दबा रही थी, शायद अब वो भी झड़ गई थी। फिर पांच मिनट के बाद उसने नसरीन से कहा कि आ जाओ और मेरा लंड अभी तक खड़ा था, लेकिन बहुत गीला हो चुका था। फिर नसरीन ने आकर अच्छी तरह से मेरे लंड को चूसा और रुबीना का सारा पानी चूस लिया और फिर मेरे लंड पर दूसरी तरफ अपना मुँह करके बैठ गई। अब मुझे मेरा लंड नजर आ रहा था जो अब उसकी चूत में घुसता जा रहा था, कुछ देर के बाद नसरीन भी अपनी मोटी-मोटी गांड को उछाल उछालकर मुझसे चुदवा रही थी। अब रुबीना मेरे पास आकर बैठ गई और मुझे वो मुझे चूम रही थी और मेरे जिस्म के साथ अपनी मर्ज़ी से खेल रही थी। अब में उसको पकड़ने के लिए बेताब था, लेकिन बेबस भी था। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

loading...

अब में भी यह सब मज़े कर रहा था, नसरीन जब उछलती थी तब पलंग के हिलने की बड़ी ज़ोरदार आवाज आती और रुबीना उसको बार-बार कह रही थी नसरीन धीरे करो, लेकिन नसरीन अपने काम में व्यस्त थी। फिर नसरीन कुछ देर के बाद दोबारा से खड़ी हुई और अपनी गांड का छेद खोला और अपनी गांड में मेरा लंड डालने लगी। अब मेरा लंड बड़ा टाईट था, एकदम से उसने अपनी गांड को दबा दिया, जिसकी वजह से मेरा लंड पूरा उसकी चूत में घुस चुका था। अब उसको वो दर्द महसूस हो रहा था, लेकिन वो बैठी रही। फिर कुछ देर के बाद उसने अपनी गांड को उछालना शुरू किया और वो मेरी छाती पर अपने हाथ रखकर उछलने मज़े करने लगी थी। अब मुझे पसीना आ चुका था और रुबीना अपने हाथ से साफ करती और मुझे चूम भी रही थी। फिर मैंने नसरीन से कहा कि मेरे हाथ खोल दो, बस अब बहुत हो गया। फिर उसने रुबीना से कहा कि खोल दो बस अब और रुबीना ने मेरे हाथ खोल दिए, मैंने एकदम से उठकर नसरीन के बूब्स ओ अपने हाथ में पकड़ लिए और में उन्हें दबाने और चूसने लगा।

अब उधर रुबीना अपनी चूत मेरी कमर के साथ रगड़ रही थी और में पागलों की तरह जोश में आ चुका था। फिर रुबीना से कहा कि अब घोड़ी बनो तब रुबीना ने वैसा ही किया और वो घोड़ी बन गई।

अब में और नसरीन बड़े जोश में आ चुके थे और वो चाहती थी कि में उसको आज इतना चोदूं कि आज वो खुद कहे कि अब बस करो। फिर मैंने उसको उल्टा किया और एक झटका मारकर अपना पूरा लंड उसकी चूत में डाल दिया, जिसकी वजह से उसको बहुत दर्द हुआ, लेकिन में नहीं माना और उसकी चूत में तेज-तेज झटके मारने लगा। अब उसकी चूत सूखी थी और मेरा लंड भी। मेरा सूखा लंड जब-जब उसकी चूत में जाता, तब उसको दर्द होता था, लेकिन मेरे लंड को कुछ भी महसूस नहीं हो रहा था। अब तक मुझे शायद 40 मिनट हो चुके थे, लेकिन मेरा पानी नहीं निकल रहा था। फिर तीन मिनट के बाद जब में थक गया तब मैंने नसरीन से कहा कि अब में तुम्हारी चूत लूँगा, आज में तुम्हारी चूत का देखना क्या हाल करता हूँ? और वो भी इसके लिए बैचेन थी। फिर मैंने रुबीना की सलवार पकड़ी और अच्छी तरह से नसरीन की चूत को साफ किया और अपना लंड भी साफ किया। अब उसकी चूत और मेरा लंड सूखा था, मैंने नसरीन के दोनों पैरों को उठाकर अपने कंधो पर रख लिया और एक झटका देकर अपना लंड उसकी चूत में डाल दिया। अब नसरीन एकदम से उछल पड़ी और चीखी क्या कर रहे हो? फिर मैंने उसकी एक नहीं सुनी और उसकी सूखी चूत मारने लगा था।

फिर पांच मिनट के बाद जब मैंने देखा कि उसकी चूत के पानी से मेरा लंड गीला हो चुका है तब मैंने दोबारा से अपना लंड बाहर निकालकर साफ किया और उसकी चूत को भी साफ किया और एक बार फिर से उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया और साथ-साथ में रुबीना के बूब्स को भी चूस रहा था। अब रुबीना यह सब देखकर जोश में आ चुकी थी और वो मेरी छाती पर अपने दाँतों से काट रही थी। अब नसरीन का बुरा हाल हो रहा था, नसरीन अब तक पांच बार अपना पानी छोड़ चुकी थी। अब वो बहुत थक चुकी थी, लेकिन में उसको लगातार धक्के देकर चोद रहा था। फिर नसरीन के मुहं से एकदम से चीख निकली और उसने कहा कि प्लीज बस करो, मुझे बहुत जलन हो रही ही प्लीज थोड़ा इंतजार करो बस। फिर मैंने अपना लंड उसकी चूत से बाहर निकाला, नसरीन झट से बाथरूम में भाग गई और फिर मैंने उसी समय रुबीना को लेटाकर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया। अब मेरा लंड नसरीन के पानी से गीला हो चुका था, मैंने अपना लंड दोबारा से साफ किया और रुबीना की चूत को भी साफ किया। अब मेरा सूखा लंड रुबीना की चूत में था, कमरे में हम दोनों थे। फिर रुबीना भी थोड़े दर्द की वजह से हिली, लेकिन अब में बहुत जोश में था और अब मैंने सोच लिया था कि अब इसको इतना चोदूंगा कि अपना पानी निकाल दूँ बस।

loading...

फिर मैंने वही सब किया और रुबीना के पैरों को ऊपर उठाकर अपने कंधों पर रख लिया और उसको नीचे से इतना तेज़ी में अपना लंड मार मारकर चोद रहा था कि वो मेरे हर झटके से आवाज निकालती ऊह्ह्ह् आह्ह्ह्ह उम्म प्लीज धीरे और में उसी तरह से चोदता जा रहा था। फिर कुछ देर के बाद जब में थक गया तब मैंने उसको घोड़ी बना लिया और पीछे से उसकी चूत में अपना लंड डालकर में उसको चोदने लगा। अब रुबीना भी बहुत मज़े कर रही थी और मेरे साथ-साथ खुद भी अपनी गांड को उठा उठाकर चुदवा रही थी। नसरीन अभी तक शायद बाथरूम में थी, क्योंकि बाथरूम से पानी की आवाज आ रही थी और इधर में और रुबीना बड़े मजे में थे। अब में रुबीना के गोल-गोल बूब्स को अपने हाथों में लेकर दबा रहा था और नीचे से अपना सात इंच का लंड उसकी चूत में आर पार कर रहा था। फिर मैंने रुबीना से पूछा कि जवेरिया की चूत तो मैंने ले ली है, अब अपनी बड़ी बेटी की भी दिलवा दो ना प्लीज।

फिर उसने कहा कि देखो प्लीज उसको रहने दो, उसकी तो अब कुछ महीने के बाद शादी भी है। अब मैंने उसकी नजरों में आग्रह भरी चीज देखी, तब मैंने उसको कहा कि में मज़ाक कर रहा हूँ और वो तसल्ली में आ गई। अब रुबीना मुझसे कह रही थी कि प्लीज तेज मारो, में कई दिनों से लंड के लिए भूखी हूँ। तभी मैंने अपनी एक उंगली को रुबीना की गांड में डाल दिया और साथ ही बड़े तेज धक्कों से चोदने लगा। अब मुझे कुछ महसूस हो रहा था कि मेरा लंड चूत में गया और करीब दस मिनट तक ऐसे ही चोदने के बाद मुझे लगा कि अब मेरा पानी निकल आएगा, क्योंकि अब स्प्रे का असर ख़त्म हो रहा था, लेकिन अब मुझे अपने लंड पर जलन भी हो रही थी। फिर रुबीना ने मेरे कहने पर अच्छी तरह से मेरे लंड को दबाया और फिर मेरे लंड को अपने मुँह में डालकर अपना थूक लगाकर अच्छी तरह से चूसा। फिर उसके बाद मैंने नसरीन को सीधा लेटाकर उसकी चूत में अपना लंड डाल दिया। अब में उसके दोनों पैरों को हवा में ऊपर खड़े करके पूरा खोलकर नीचे से अपना लंड तेज से उसकी चूत में अंदर बाहर करने लगा था। अब मुझे बहुत मज़ा आ रहा था नसरीन भी वापस कमरे में आ गई थी और अपनी चूत पर तेल लगा रही थी और कह रही थी शायद चूत में जख्म हो गया है जिसकी वजह से मुझे बड़ी तेज जलन हो रही है।

loading...

अब में रुबीना की चूत में अपने लंड को बड़े तेज-तेज धक्के मार रहा था, तभी एकदम से रुबीना की चूत से बहुत सारा पानी निकला और अब मेरा लंड उसकी वजह से ज्यादा चिकना हो गया था। अब में भी उसको तेज-तेज धक्के देकर चोद रहा था, ताकि में भी अपना पानी निकाल दूँ। फिर दो मिनट के बाद तेज धार के साथ मेरा पानी निकला और मैंने अपना सारा पानी रुबीना की चूत में ही निकाल दिया और रुबीना ने मेरा लंड ज़ोर से अपनी चूत के साथ दबा लिया। मेरा विश्वास करो दोस्तों उस रात मेरी पहली चुदाई थी, लेकिन वो चुदाई दस चुदाई से भारी थी और मेरा पानी इस तरह से निकला था जैसे एक साल का पानी आज एक साथ बाहर निकला हो, मेरे लंड से बहुत ज्यादा मात्रा में वीर्य बाहर निकला था। फिर उसके बाद हम तीनों नंगे ही एक दूसरे की बाहों में बाहें डालकर वैसे ही लेटे रहे। अब नसरीन को जलन हो रही थी और अब वो कह रही थी कि कल रात को में शायद चूत नहीं दे सकती, तुम चाहो तो यहाँ ना आना, लेकिन अब मैंने और रुबीना ने प्लान बना लिया था कि वो नसरीन के घर में ही फिर से मुझे कल रात भी अपनी चूत देगी, लेकिन नसरीन नहीं दे सकी तो।

फिर उसके बाद हम तीनों नंगे ही सो गये और सुबह नाश्ता करने के बाद दस बजे में अपने घर वापस आ गया। फिर आने से पहले नसरीन ने बताया कि वो अब कुछ ठीक है और अब वो मुझे आज रात को फोन करेगी, तुम आज भी आ जाना ठीक है, लेकिन उसने रुबीना को मना कर दिया था कि तुम आज नहीं आना कल आना, आज में अकेली करना चाहती हूँ। फिर आज रात क्या हुआ होगा? वो सब में आप सभी को अपनी अगली कहानी में जरुर बताऊँगा। अब मुझे जाने की आज्ञा दे में अपने दूसरे अनुभव के साथ आप सभी की सेवा में जरुर आऊंगा ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!