सहेली का विश्वास और धोखा

0
Loading...

प्रेषक : गीतांजलि …

हैल्लो दोस्तों, आज में आप लोगों से मेरी एक सहेली की एक स्टोरी शेयर करना चाहती हूँ। उसका नाम नीतू है, उसकी उम्र 26 साल है और उसका फिगर साइज 34-28-36 है और वो दिखने में भी काफ़ी सुंदर है। नीतू के एक बॉयफ्रेंड था, जिसका नाम विनोद था। नीतू और विनोद एक दूसरे से बहुत प्यार करते थे। नीतू कुछ मॉडर्न ख्याल की लड़की है, वो प्यार में सब कुछ चाहती थी, लेकिन विनोद उससे शरीरिक सम्बन्ध नहीं रखना चाहता था, लेकिन नीतू की ज़िद्द पर विनोद ने पहली बार उसे किस किया। फिर उसने कुछ दिन के बाद उसके बूब्स सक किए और कुछ दिन के बाद उनके बीच शरीरिक सम्बन्ध कायम हो गये। अब शुरू-शुरू में तो विनोद नीतू से बहुत ज़्यादा प्यार करता था, लेकिन नीतू उसे लेकर सीरीयस नहीं थी, इसलिए वो कभी भी उसकी कोई बात नहीं मानती थी और ना ही उसे टाईम पर मिलने आती, वो हमेशा लेट आती थी और लड़कों से बातें करती थी और उनके साथ बाइक पर घूमने जाती थी और घंटो फोन पर बातें करती थी।

फिर जब विनोद उससे कहता कि जरूरत हो तो लड़कों से बातें किया करो, वरना तुम्हारा बेवजह उनसे बातें करना और उनके साथ घूमना मुझे पसंद नहीं है, लेकिन नीतू उसकी बात को नहीं मानती थी और उससे कहती कि ये आखरी बार है, आगे से ऐसा कभी नहीं होगा। फिर एक बार नीतू का कोई ऑफिस ट्रिप दिल्ली गया और उस ट्रिप पर कोई भी स्टाफ की लड़की नहीं गयी थी और अकेली नीतू गयी थी, वो भी 4 लड़को के साथ। तब विनोद ने नीतू को काफ़ी मना किया, लेकिन नीतू नहीं मानी और उन लड़कों के साथ घूमने चली गयी। बस उस दिन के बाद उन दोनों के बीच में लड़ाईयाँ कुछ ज़्यादा ही शुरू हो गयी, लेकिन लड़ाईयों के बावजूद जब नीतू का सेक्स करने का मन करता तो वो विनोद के पास चली जाती और उसे सेक्स करने के लिए मनाती और वो कुछ देर के बाद तैयार भी हो जाता था।

अब धीरे-धीरे नीतू भी विनोद को बहुत प्यार करने लगी थी। अब इसी तरह से उन दोनों की लाईफ चल रही थी कि विनोद के घरवालों ने विनोद का रिश्ता कहीं और कर दिया। फिर नीतू को जब इस बात का पता चला तो वो अंदर से बिल्कुल टूट गयी। अब वो सारी-सारी रात रोकर गुजारती थी। अब उसे कुछ समझ में नहीं आ रहा था कि वो क्या करे? फिर उसी वक़्त उसके एक ख़ास जिसका नाम आनंद गुप्ता था उसने उसकी काफ़ी मदद की, वो उसे समझाता था कि दुनियाँ में ये सब कुछ तो होता रहता है इसलिए अपनी लाईफ दुबारा नये तरीके से दुबारा शुरू करे।

फिर धीरे धीरे नीतू को उसकी बात समझ में आने लगी कि भूतकाल के पीछे भागने से कुछ हासिल नहीं होगा, तो वो विनोद को भूलने की कोशिश करने लगी और विनोद को भूलने की कोशिश में वो आनंद के कब करीब आ गयी? यह खुद उसे भी पता नहीं चला था। फिर एक बार वो दोनों इंटरनेट कैफे पर कुछ काम से गये तो वहाँ कैबिन बने हुए थे, तो वो दोनों एक कैबिन में बैठ गये और काम करने लगे थे। फिर कुछ देर के बाद आनंद ने धीरे से अपने एक हाथ को नीतू की कमर में डाल दिया, लेकिन फिर भी नीतू ने आनंद को कुछ नहीं कहा। यह देखकर आनंद की हिम्मत बढ़ गयी और उसने नीतू को किस कर दिया, लेकिन आनंद के किस करने पर नीतू चौंक गयी और बोली कि आनंद ये क्या कर रहे हो? तो तब आनंद ने कहा कि क्या हुआ नीतू डार्लिंग? मैंने कुछ अलग तो नहीं किया, जो सभी लोग प्यार में करते है में वही तो कर रहा हूँ, क्या यह गलत है? तो यह सुनकर नीतू ने कहा कि नहीं गलत तो नहीं है, लेकिन डर लग रहा है, में एक बार प्यार में चोट खा चुकी हूँ।

फिर आनंद ने कहा कि हर कोई एक जैसा नहीं होता है, मुझ पर विश्वास करो और यह कहकर उसने नीतू को अपनी बाँहों में जकड़ लिया और उसे चूमने लगा था। फिर काफ़ी देर तक चूमने के बाद उसने नीतू से कहा कि क्या तुम मेरे साथ मेरे घर चलोगी? आज मेरे घर पर कोई नहीं है। फिर कुछ देर तक आनाकानी करने के बाद नीतू आनंद के साथ उसके घर जाने के लिए तैयार हो गयी और उस दिन उन दोनों के बीच शरीरिक सम्बन्ध बन गये और उस दिन के बाद तो नीतू और आनंद ने काफ़ी बार सेक्स किया। फिर काफ़ी दिनों के बाद नीतू ने आनंद से शादी के लिए कहा तो आनंद ने उसकी बात को घुमाकर खत्म कर दिया और वो नीतू को बाहर घूमने के लिए मनाने लगा और नीतू तैयार भी हो गयी और फिर वो दोनों शिमला चले गये और शिमला में आनंद ने नीतू को जबरदस्त ढंग से चोदा और कई बार चोदा, वो कहीं नहीं घूमा और न ही नीतू को घुमाया और सारे दिन कमरे में नीतू को चोदता रहता और फिर 4-5 दिन के बाद वो लोग वापस आ गये और वहाँ से वापस आने के बाद भी आनंद ने उसे चोदना कम नहीं किया और उसे चोदने की स्पीड बढ़ा दी।

अब इधर नीतू भी आनंद पर शादी के लिए प्रेशर डालने लगी थी। फिर एक दिन आनंद ने नीतू से कहा कि वो उससे शादी कैसे कर सकता है? क्योंकि वो तो विनोद से चुद चुकी है और वो एक ऐसी लड़की से शादी नहीं कर सकता, जो किसी और से चुद चुकी हो। फिर नीतू ने उससे कहा कि लेकिन आनंद को तो विनोद के बारे में सब पता था और उसने फिर भी कहा था कि वो उससे शादी करेगा। तब आनंद ने कहा कि वो तो इसलिए कहा था क्योंकि वो उसे पहले से चोदना चाहता था, लेकिन उसे मौका नहीं मिला था। लेकिन जब उसे नीतू और विनोद के ब्रेकअप का पता चला, तो उसे लगा की यही मौका है उसे चोदने का इसलिए उसने उससे प्यार का नाटक किया, ताकि वो उसे चोद सके और वो उसमें कामयाब भी हुआ और फिर उसने उसे जमकर और कई बार चोदा।

Loading...

अब उसे उसकी जरूरत नहीं है, हाँ लेकिन अगर वो उससे चुदाई करवाना चाहे तो वो उसकी चुदाई करने के लिए तैयार है। फिर नीतू यह सुनकर फिर से टूट गयी और इस बार फिर उसके एक खास जिसका नाम गौतम था, उसने उसके करीब आने की कोशिश की, लेकिन इस बार नीतू ने उसे अपने करीब आने नहीं दिया। तब उसने नीतू से कहा कि वो उससे पहले शादी करेगा और फिर उसे टच करेगा। तो यह बात सुनकर नीतू को भरोसा हो गया कि वो उससे शादी करेगा। तब गौतम ने उससे मंदिर मे शादी करने को कहा, लेकिन नीतू ने कहा कि मंदिर में की गयी शादी का कोई प्रूफ नहीं होता है। तो तब गौतम ने कहा कि तो ठीक है हम दोनों दिल्ली चलते है और वहाँ कोर्ट मैरिज कर लेंगे और वहाँ से तुम्हें मैरिज सर्टिफिकेट भी मिल जाएगा, जो सबसे बड़ा प्रूफ है और हम वहीं से अपने हनीमून पर चलेंगे। तो तब नीतू ने कहा कि ठीक है और फिर अगले दिन नीतू और गौतम दिल्ली चले गये। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

फिर वहाँ जाकर वो कोर्ट गये और मैरिज के लिए एप्लिकेशन फॉर्म भर दिया। अब उनकी बारी आने में टाईम था, तो तब गौतम ने कहा कि चलो जब तक हमारा नंबर आता है हम दिल्ली घूम लेते है और एक स्वीट रूम बुक करा लेते है, क्योंकि आज की रात उनकी सुहागरात होगी। तब नीतू तैयार हो गयी। फिर बाद में रूम बुक करने के बाद वो वापस कोर्ट आए और इन्तजार करने लगे, लेकिन कोर्ट 5 बजे बंद हो गयी थी, लेकिन उनका नंबर नहीं आया था। तब मैरिज रिजिस्ट्रार ने उन्हें सुबह 9 बजे आने को कहा तो यह सुनकर गौतम ने कहा कि आज रात हम यहीं रुक जाते है और सुबह शादी कर लेंगे। तो तब नीतू ने सोचा कि सुबह दुबारा आने से अच्छा है कि रात यहीं बिताई जाए और यह सोचकर वो दोनों होटल चले गये और दोनों अलग-अलग सो गये, लेकिन रात को अचानक से गौतम नीतू के पास गया और उसे किस करने लगा।

तब नीतू ने मना किया, तो तब गौतम ने कहा कि नीतू डार्लिंग प्लीज मना मत करो, में तो तुमसे शादी कर ही रहा हूँ, आज नहीं हो सकी तो इसमें मेरी क्या गलती है? प्लीज मुझे मत रोको, कई दिन से अपने ऊपर कंट्रोल किया हुआ था। तब नीतू को लगा कि यह ठीक कह रहा है, तो तब उसने को विरोध नहीं किया और फिर उस रात भी नीतू की जबरदस्त चुदाई हुई। फिर जब सुबह नीतू उठी तो उसने देखा कि कमरे में कोई नहीं था। फिर उसने इधर उधर सब जगह देखा, लेकिन गौतम उसे कहीं नहीं मिला और उसे अपना पर्स भी नहीं मिला था। फिर जैसे ही वो होटल से बाहर जाने लगी तो तब मैनेजर ने उसे रोक लिया और उसे होटल का बिल चुकाने के लिए कहा तो तब नीतू ने उसे सारी बात बता दी। तो तब मैनेजर ने उससे कहा कि तुम्हारी बात पर विश्वास कर लेता हूँ, लेकिन होटल के बिल के बदले एक रात उसके साथ गुजारनी पड़ेगी। तब नीतू मना करने लगी तो तब उसने कहा कि जब वो अपने बॉयफ्रेंड से चुदाई करवा सकती है, तो उससे क्यों नहीं?

Loading...

फिर भी जब नीतू तैयार नहीं हुई तो तब मैनेजर ने कहा कि तो ठीक है में पुलिस को कॉल करता हूँ, वो तुम्हें पकड़कर अपने साथ ले जाएगी और पुलिस वाले तो बारी-बारी सब तुम्हें नोच-नोचकर खा जाएँगे, यहाँ तो में अकेला ही हूँ, तुम्हारी मर्ज़ी है सोच लो। यह सुनकर नीतू को लगा कि यह ठीक कह रहा है, तो वो तैयार हो गयी और उसने मैनेजर के साथ रात गुज़रने के लिए हाँ कर दी। फिर उस रात मैनेजर ने नीतू की जबरदस्त चुदाई की और जब सुबह नीतू जाने लगी तो तब मैनेजर ने कहा कि अभी नहीं जानेमन, अभी मेरे लंड की प्यास नहीं बुझी, अभी मुझे तुम्हारी और भी गांड मारनी है। तब नीतू ने कहा कि उसने एक रात रुकने को कहा था। तो तब मैनेजर ने कहा कि कहा तो था, लेकिन अब नहीं, बस एक रात और फिर इस तरह से मैनेजर ने उसे 7 दिन तक लगातार रोका और 7 दिन तक उसे दिन और रात सारा दिन चोदता रहा।

फिर 7 दिन के बाद जब नीतू ने उससे कहा कि मुझे 100 रुपए दे दो, ताकि में अपने घर जा सकूँ। तो तब उसने कहा कि एक रात और रुक जा तब दूँगा। तब नीतू को लगा कि जहाँ इतने दिन वहाँ एक दिन और सही। फिर वो एक दिन और रुक गयी और उस रात मैनेजर ने उसकी गांड भी मारी और चूत भी और उसके मुँह में अपना लंड डालने को कहा तो वो डर के मारे उसके लंड को चूसती रही और सारी रात चुदती रही। फिर सुबह उठकर भी जब मैनेजर पैसे देने के लिए तैयार नहीं हुआ। तब नीतू ने कहा कि चलो पैसे नहीं तो एक फोन ही करने दो। तब मैनेजर ने कहा कि ठीक है फोन कर लो। फिर नीतू ने सोचा कि हर लड़का एक जैसा होता है, अब में किसी लड़के की बात नहीं मानूँगी। तब उसने अपनी एक फ्रेंड रीता को फोन किया और कहा कि उसे कुछ पैसे की जरूरत है। तो तब रीता ने नीतू से कहा कि ठीक है, उसका पति जिसका नाम अशोक है दिल्ली ही आया हुआ है, वो तुम्हें पैसे दे देगा, तुम अपना एड्रेस दे दो। तब नीतू ने अपना एड्रेस रीता को दे दिया और रीता ने अशोक को नीतू को पैसे देने के लिए कह दिया।

फिर जब अशोक नीतू को पैसे देने उसके पास पहुँचा तो तब उसने नीतू को बस स्टेंड ड्रॉप करने को कहा और उसे अपनी कार में बैठाकर चल दिया और एक सुनसान रोड पर आकर उससे बोला कि नीतू जी आप तो बहुत सेक्सी हो, प्लीज एक बार मुझसे गांड मरवा लो 100 रुपए क्या? में आपको 1000 रुपए दूँगा और यह कहकर वो उस पर टूट पड़ा और फिर उसने कार में ही नीतू को चोद दिया और फिर उसे बस स्टेंड छोड़ दिया और फिर आख़िरकार नीतू अपने घर पहुँच गयी। फिर घर पहुँचकर उसने मुझे अपनी सारी आप बीती सुनाई और उस दिन के बाद से नीतू ने लड़को पर विश्वास करना छोड़ दिया ।।

धन्यवाद …

Comments are closed.

error: Content is protected !!