सेक्सी बहन के साथ गोवा में मजा – 1

0
loading...

प्रेषक : जॉन ..

हैल्लो फ्रेंड.. में जॉन आप सभी के सामने एक गर्म और सेक्सी स्टोरी लेकर आया हूँ। दोस्तों मेरी उम्र 22 साल है और मेरा कलर साफ, अच्छी बॉडी है.. क्योंकि में हर दिन जिम जाता हूँ। फ़िलहाल में दिल्ली में रहता हूँ और मेरी फेमिली जालंधर में रहती है। में दिल्ली में एक हॉस्टल में रहता हूँ। हमारे कॉलेज के पेपर्स खत्म होने के बाद मेरे दोस्तों ने कहीं बाहर घूमने का प्लान बनाया.. वो दिसम्बर का महिना था और उन्होंने गोवा जाने का प्लान बनाया। तो मैंने कहा कि चलो ठीक है और हम सभी ने दो सप्ताह के लिए गोवा जाने का प्लान बनाया। तो मेरे दोस्तों ने कहा कि हम सभी वहाँ पर अपनी अपनी गर्लफ्रेंड के साथ चलेंगे और यह बात सुनकर में थोड़ा उदास हुआ.. क्योंकि मेरी गर्लफ्रेंड के साथ मेरा कुछ दिन पहले ही का झगड़ा हुआ था। फिर में सोचने लगा कि अब में क्या करूं? तो अब मेरी समस्या का कोई हल नहीं निकल रहा था। फिर मेरे दोस्तों ने 22 दिसम्बर को जाने के लिया बोला और सब कुछ तय होने के बाद में अपने घर आ गया। फिर जब में घर पर पहुंचा तो माँ घर पर अकेली थी और पापा ऑफिस गए हुए थे और मेरी बहन कॉलेज गयी थी।

दोस्तों अब में अपनी बहन के बारे में आप सभी को बता दूँ.. वो बहुत सुंदर है उसकी उम्र 19 साल है, कलर गोरा, उसका फिगर 34-28-36 है। मैंने अपनी बहन को पिछले 6 महीने से नहीं देखा था.. क्योंकि में कभी कभी अपने घर पर आता हूँ और जब शाम को मेरी बहन कॉलेज से घर वापस आई तो मैंने उसे देखा और मुझे उसमे बहुत कुछ बदला बदला सा लगा। उसकी छाती बहुत अच्छे आकार में आ गई थी और उसकी गांड भी बहुत अच्छे आकार में थी। फिर जब वो मेरे रूम में मुझसे मिलने आई तो उसने नीले कलर की टाईट जिन्स पहनी हुई थी और गहरे नीले कलर का टॉप पहना हुआ था। उसकी जांघे भी बहुत अच्छे आकार में थी और उसकी गांड जीन्स में से हिलती हुई साफ दिख रही थी। अभी तक मैंने अपनी बहन के बारे में कभी भी कुछ बुरा नहीं सोचा था और वो मेरे रूम में आई तो में लेपटॉप पर गेम खेल रहा था। वो आई और कहा कि आप कैसे हो और आप कितने दिनों के बाद आए हो और उसके बूब्स मेरे चेस्ट पर लगे.. लेकिन मैंने ज्यादा ध्यान नहीं दिया.. क्योंकि वो मेरी बहन है।

तो मैंने कहा कि में बिल्कुल ठीक हूँ.. लेकिन तुम अपनी सुनाओ। फिर मैंने कहा कि तुम बहुत फिट हो गयी हो और बहुत अच्छी लग रही हो। तो उसने भी कहा कि आपने भी बहुत अच्छी बॉडी बनाई है। फिर हमने थोड़ी देर इधर उधर की बातें की और रात को खाने के टाईम में अपने पापा से मिला.. तो उन्होंने पूछा कि तुम्हारे पेपर कैसे रहे? फिर मैंने कहा कि बहुत अच्छे। तभी थोड़ी देर के बाद मैंने कहा कि पापा मेरे दोस्तों ने दो सप्ताह के लिए गोवा जाने का प्लान बनाया है तो क्या में भी उनके साथ चला जाऊँ? तो पापा ने कहा कि हाँ क्यों नहीं तुम भी जा सकते हो और यह सब हमारी बातें मेरी बहन भी सुन रही थी। फिर खाने के बाद मेरी बहन मेरे रूम में आई और वो कहने लगी कि में भी यहाँ पर बोर हो जाऊंगी.. क्या में भी आप सभी के साथ चलूं? तो मैंने कहा कि नहीं प्रीति वहाँ पर मेरे सभी दोस्त जा रहे है और तुम वहाँ पर जाकर क्या करोगी? तो उसने कहा कि कुछ नहीं होता और फिर वहाँ पर कोई तुम्हारी क्लास की लड़की भी तो आ रही होंगी। तो मैंने कहा कि हाँ आ तो रही है.. तो उसने कहा कि तो में भी चलूंगी.. क्या प्राब्लम है? लेकिन मैंने उससे कहा कि तुम नहीं जा सकती और वो गुस्सा होकर चली गयी। फिर उसने अगले दिन मुझसे बात नहीं की और फिर रात को खाने के बाद में उसके रूम में गया तो मैंने कहा कि प्रीति तुम समझा करो.. तो वो कहने लगी कि मेरे जाने में क्या प्राब्लम है? तो मैंने कहा कि हम सब अपनी अपनी गर्लफ्रेंड के साथ जा रहे है। तो उसने कहा कि तो अच्छा यह प्राब्लम है.. फिर उसने मुझसे कहा कि तो क्या तुम भी अपनी गर्लफ्रेंड के साथ जा रहे हो। तो मैंने कहा कि हाँ शायद.. तो उसने कहा कि यह हाँ शायद से क्या मतलब? तो मैंने कहा कि उसका और मेरा झगड़ा हो गया है और मैंने उसे मनाने की बहुत कोशिश की.. लेकिन वो नहीं मानी। फिर मेरी बहन ने कहा कि तो फिर क्या तुम गोवा अकेले जाओगे? तो मैंने कहा कि हाँ शायद हो सकता है अगर वो नहीं मानी तो ऐसा ही करना पड़ेगा। तभी मेरी बहन ने कहा कि तो क्या में तुम्हारी गर्लफ्रेंड बनकर चल सकती हूँ? तो मैंने कहा कि अरे तुम यह क्या कह रही हो? तो वो कहने लगी कि देखो तुम्हारे फ्रेंड में मुझे कोई भी नहीं जानता और ना ही किसी ने मुझे कभी नहीं देखा.. तो किसी को कुछ भी पता नहीं चलेगा।

फिर मैंने उसे बहुत समझाया तो वो फिर भी नहीं मानी और फिर मैंने भी लास्ट में कहा कि ठीक है तुम चल सकती हो.. लेकिन किसी को पता नहीं चलना चाहिए कि तुम मेरी बहन हो। तो उसने कहा कि हाँ में वादा करती हूँ कि किसी को कुछ भी पता नहीं चलेगा। तो 21 दिसम्बर को मैंने पापा से बात कर ली कि प्रीति भी मेरे साथ जा रही है.. तो उन्होंने कहा कि ठीक है जाओ.. लेकिन अपना ख्याल रखना ठीक है। तो मैंने कहा कि ठीक है और फिर 22 दिसम्बर को दिल्ली से गोवा हमारी फ्लाईट थी। में और मेरी बहन दिल्ली एयरपोर्ट पहुंचे तो वहाँ पर मेरे सभी फ्रेंड मिले जो कि सब अपनी अपनी गर्लफ्रेंड के साथ आए थे। तभी उन्होंने मेरी बहन को देखा जो कि एक सेक्सी बॉम्ब लग रही थी.. उसने एक हरे कलर का गहरे गले का टॉप पहना हुआ था और मिनी स्कर्ट पहनी हुई थी। तो मैंने अपने सभी दोस्तों का उससे परिचय कराया और फिर हम सब फ्लाईट के लिये चले गये। फिर हम गोवा पहुंचे और वहाँ पर मेरे दोस्त ने पहले से ही एक होटल बुक किया हुआ था.. उसने सबको रूम की चाबी दी। फिर हम सब अपने अपने कमरों में चले गये।

loading...

फिर हम फ्रेश होकर मिले तो हम घूमने निकल गये.. तो मेरे एक दोस्त ने मुझसे पूछा कि यह तेरी गर्लफ्रेंड तो बहुत ही अच्छा माल है। तो मैंने उसे कहा कि तू चुप रह और ऐसा मत बोल.. तो उसने कहा कि ठीक है। फिर उसने मुझसे पूछा कि यह क्या जालंधर ही रहती है? तो मैंने कहा कि हाँ यह मेरी पड़ोसन है। फिर उसने कहा कि क्या तूने इसे कभी चोदा है? तो मैंने उसे कहा कि तू पागल है क्या? मैंने अभी तुझे मना किया है ना तू ऐसी बातें मत कर। तो उसने कहा कि ठीक है नहीं करता और फिर 22 दिसम्बर की रात को हम सभी ने डिस्को जाने का प्लान बनाया और जब हम सब डिस्को के लिए निकले तो मेरी बहन ने काली कलर की लम्बी फ्रोक पहनी थी। तो मेरे सभी फ्रेंड्स मेरी बहन को घूर घूरकर देख रहे थे और फिर मैंने उनसे कहा कि चलो चलते है। फिर हम डिस्को पहुंचे और अंदर जाकर मेरे सभी फ्रेंड्स तो अपनी अपनी गर्लफ्रेंड के साथ डांस करने लगे.. में और मेरी बहन साईड में एक कुर्सी पर बैठ गये और बातें करने लगे। दोस्तों ये कहानी आप कामुकता डॉट कॉम पर पड़ रहे है।

तो थोड़ी देर बाद मेरा एक फ्रेंड मेरे पास आया और हमे डांस के लिए बुलाने लगा.. तो मैंने मना किया तो वो थोड़ा फोर्स करने लगा और फिर हम खड़े हुए और डांस फ्लोर पर चले गये। हम दोनों थोड़ा दूर होकर डांस कर रहे थे और मेरे सभी फ्रेंड्स अपनी गर्लफ्रेंड के साथ चिपक-चिपक कर डांस कर रहे थे। फिर मेरे एक फ्रेंड ने मुझे इशारा किया और कहा कि थोड़ा चिपककर डांस करो। तो मैंने अपनी बहन को पास बुलाया और अपना एक हाथ उसकी कमर पर रखा और डांस करने लगा। फिर मैंने अपनी बहन को कहा कि देखा मुझे पता था कि कुछ ऐसा ही होगा.. तभी तो में तुम्हे आने को मना कर रहा था। तो उसने कहा कि कुछ नहीं होता इतना तो नॉर्मल है। फिर मेरा एक फ्रेंड थोड़ा साईंड में अपनी गर्लफ्रेंड को स्मूच कर रहा था और यह देखकर में सोचने लगा कि काश मेरी गर्लफ्रेंड भी यहाँ पर मेरे साथ होती.. इतने में मेरी बहन ने भी उन्हें देख लिया और कहने लगी कि क्या आप अपनी गर्लफ्रेंड को मिस कर रहे हो? मैंने कहा कि हाँ.. तो उसने मुझे गर्दन पर किस किया और कहने लगी कि कोई बात नहीं।

फिर मैंने स्माईल दी और डांस करने लगा और हम सभी करीब 2 बजे होटल वापस आए और हम सब अपने अपने रूम में चले गये। फिर सुबह हुई और हम सब लड़के बीच पर घूमने गये और सभी लड़कियाँ होटल में ही थी। तो मेरे सभी फ्रेंड आखरी रात की बातें करने लगे और कहने लगे कि रात को मैंने अपनी गर्लफ्रेंड को इतनी बार चोदा, यह किया, वो किया और बहुत कुछ कह रहे थे। तो मेरे दोस्तों ने मुझसे पूछा कि तूने क्या किया? तो मैंने कहा कि मैंने कुछ नहीं किया.. तो वो सब कहने लगे कि क्या तू पागल है और उसे यहाँ पर क्यों लाया है? फिर वो कहने लगे कि यह तेरी गर्लफ्रेंड इतनी सेक्सी है तब भी तूने कुछ भी नहीं किया। फिर मेरा एक फ्रेंड बोला कि अगर मेरी इतनी सेक्सी गर्लफ्रेंड होती तो में पूरी रात चोद चोदकर उसकी चूत फाड़ देता। तो मैंने कहा कि तुम चुप हो जाओ जो होना होगा हो जाएगा और फिर सारे फ्रेंड चुप हो गये। फिर में सोचने लगा कि मेरी बहन वैसे रात को लग तो बहुत सेक्सी रही थी.. लेकिन फिर मैंने दिमाग से निकाल दिया क्योंकि वो मेरी बहन थी। फिर हम सारे होटल वापिस आए और अपने रूम में चले गये।

में जब अपने रूम में गया तो मैंने देखा कि मेरी बहन बाथरूम से नहाकर बाहर निकली थी और उसने अपने शरीर पर टावल लपेटा हुआ था.. लेकिन उसने मुझे नहीं देखा था और में भी थोड़ी देर तक ऐसे ही पीछे चुपचाप खड़ा रहा। मैंने देखा कि उसके बूब्स थोड़े से टावल से नज़र आ रहे थे और उसके सीधे बूब्स के ऊपर एक तिल था और टावल उसकी जांघो से ऊपर तक था और टावल में से उसकी गांड का आकार साफ नज़र आ रहा था। फिर उसने मुझे देखा और कहा कि ओह भैया आ गए आप और उसने अपने कपड़े उठाए और बाथरूम में चली गयी। फिर वो थोड़ी देर बाद बाथरूम से आई और उसने कहा कि वो बाकी लड़कियों के साथ बाहर घूमकर आएगी। फिर में बेड पर लेट गया और अपनी गर्लफ्रेंड के बारे में सोचने लगा और में सोच रहा था कि काश आज मेरी गर्लफ्रेंड भी मेरे साथ होती तो में भी रात को उसे चोदता और यही सब सोचते हुए मुझे मेरे दोस्तों की बातें याद आने लगी जो वो सुबह कह रहे थे कि मेरी गर्लफ्रेंड मतलब मेरी बहन बहुत सेक्सी है। फिर मेरे दिमाग़ में थोड़ी देर पहले का सीन घूमने लगा जब में रूम में आया था और मेरी बहन टावल में थी और में अपने फ्रेंड की बातों के बारे में भी सोच रहा था और फिर मैंने देखा कि मेरा लंड थोड़ा टाईट हो गया था। फिर में अपनी बहन के बारे में सोचने लगा कि वो टावल में कितनी सेक्सी लग रही थी और उसके गीले बाल, टावल में दिखती टाईट गोल गांड और आधे आधे दिखते गोरे टाईट बूब्स.. अब मेरा लंड पूरा टाईट हो गया था। फिर में बाथरूम में गया और मुठ मारने लगा। मुठ मारते हुए में अपनी बहन के बारे में सोचने लगा और में वो सब सोचकर मुठ मार रहा था कि में अपनी बहन की डॉगी स्टाईल में चूत मार रहा हूँ और उसकी सेक्सी गोल गांड हिल रही है और थोड़ी देर के बाद में झड़ गया और मेरा बहुत सारा वीर्य निकला जो कि पहले कभी इतना नहीं निकला था। फिर में होश में आया और अपनी ग़लती महसूस करने लगा कि वो मेरी बहन है.. लेकिन दिमाग़ में फिर यह बात भी आई की उसको सोचकर मुठ मारने में इतना मज़ा आया है जितना पहले कभी नहीं आया.. तो फिर उसे चोदने में कितना मज़ा आएगा? फिर में बेड पर लेट गया और यह सोचने लगा कि क्या करूं.. उसके साथ सेक्स करूं या नहीं? अगर सेक्स करूं तो कैसे करूं वो मेरी बहन है और उसे सेक्स ले लिए कैसे मनाऊंगा? फिर मैंने सोचा कि हम दोनों यहाँ पर गोवा में अपने घर से बहुत दूर है और ऐसा मौका दोबारा नहीं मिलेगा और मेरा गोवा का ट्रिप भी मज़े में निकल जाएगा। अब मैंने ठान लिया कि में उसके साथ सेक्स करूँगा और फिर यह सोचने लगा कि उसे कैसे मनाऊं और थोड़ी देर बाद मेरी बहन आई और आकर मेरे पास बेड पर लेट गयी। मुझे उसके जिस्म से बहुत अच्छी खुश्बू आ रही थी।

फिर रात को हम रेस्टोरेंट गये और वहीं पर खाना खाया और साथ में रेड वाईन पी.. मेरी बहन ने रेड वाईन पहली बार पी थी। फिर खाना ख़त्म होने के बाद हम सब बीच पर घूमने चले गये.. हम सब कपल बनकर घूमने लगे। मेरे सब फ्रेंड अपनी गर्लफ्रेंड को लेकर बैठ गये में भी अपनी बहन को एक कोने में लेकर बैठ गया। मेरी बहन और में बातें करने लगे और फिर मेरी बहन ने बोला कि देखो तुम्हारे सब फ्रेंड अपनी गर्लफ्रेंड के साथ क्या कर रहे है? तो मैंने कहा कि तुम उन्हें मत देखो.. फिर मेरी बहन ने कहा कि क्यों? मैंने कहा कि ऐसे ही.. तो उसने कहा कि क्यों यहाँ पर तुम्हारी गर्लफ्रेंड नहीं है इसलिए तुम ऐसे बोल रहे हो। शायद मेरी बहन ने वाईन थोड़ी ज़्यादा पी ली थी इसलिए वो थोड़ा खुलकर बात कर रही थी। फिर मेरी बहन थोड़ा मेरे पास आई और कहा कि अगर तुम्हारी गर्लफ्रेंड यहाँ पर अभी तुम्हारे साथ बैठी होती तो क्या तुम भी यह सब करते? तो में कुछ नहीं बोला.. फिर मेरी बहन ने मेरा हाथ पकड़ा और कहा कि कोई बात नहीं उदास मत हो…

दोस्तों आगे की कहानी अगले भाग में …

धन्यवाद …

loading...
इस कहानी को Whatsapp और Facebook पर शेयर करें ...

Comments are closed.